Home » इंडिया » Mob lynching: person killed by mod accused for cow smuggling in alwar rajasthan
 

राजस्थान: अलवर में फिर हुई मॉब लिचिंग, गौ-तस्करी के शक में अकबर की भीड़ ने ली जान

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2018, 12:42 IST

सुप्रीम कोर्ट के सख्त निर्देशों के बाद भी मॉब-लिंचिंग की घटनाएं बंद होती नहीं दिख रही हैं. राजस्थान के अलवर में एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या कर दी. गौ तस्करी के आरोप में एक व्यक्ति को पीट पीट कर भीड़ ने मार डाला. घटना रामगढ़ के लालवंडी गांव की है. मृतक का नाम अकबर खान है. अकबर हरियाणा का रहने वाला है. पजानकारी के अनुसार मृतक दो गाय लेकर जा रहा था.

ये भी पढ़ें-मॉब लिंचिंग पर SC का निर्देश- संसद में नया कानून बनाए सरकार

गौरतलब है कि भीड़ के उग्र रूप का ये पहला मामला नहीं है. पूरे देश के कई हिस्सों से भीड़ हाथ में लेने की खबरें आती रहती हैं. सुप्रीम कोर्ट के सख्त निर्देश के बाद भी भीड़ द्वारा हत्या के इन मामलों पर कोई लगाम नहीं लगाई जा सकी है. सुप्रीम कोर्ट ने साफ़ किया था कि भीड़ किसी नहीं कर सकती, भीड़तंत्र को मंजूरी नहीं दी जा सकती है. साथ ही कोर्ट के राज्यों को आदेश दिए थे कि इन घटनाओं को रोका जाए और सख्त कदम उठाये जाएं.

ये भी पढ़ें- बच्चा चोरी की अफवाह ने ली इंजीनियर की जान, व्हाट्सप्प ग्रुप का एडमिन गिरफ्तार

SC ने राज्य सरकारों को किया तलब

भीड़ की हिंसा पर काबू पाने के लिए आज सुप्रीम कोर्ट ने महत्वपूर्ण फैसला दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि शांति बनाये रखना और समाज की रक्षा करना राज्य की जिम्मेदारी है.चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने भीड़ की हिंसा पर ये विचार रखा की संसद को अलग से इस पर कानून बनाना चाहिए. साथ ही राज्य सरकारों को हिदायत देते हुए कहा कि भीड़ की हिंसा को रोकना राज्य का काम है. ये राज्य की जिम्मेदारी है की भीड़ के हिंसक रूप को रोका जा सके. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 20 अगस्त को कोर्ट हालत की दोबारा समीक्षा करेगा.

ये भी पढ़ें- मॉब लिंचिंग पर फारूक अबदुल्ला बोले- मुसलमानों के पीछे भीड़ पागल कुत्तों की तरह दोड़ रही है

गौरतलब है कि देश भर से हिंसक भीड़ द्वारा लोगों की जाने गंवाने की खबरे आ रही है. 2012 से अभी तक केवल गोरक्षा मामले में अब तक 85 घटना हुई है. इंडिया स्पैंड के मुताबिक, इन वारदातों में भीड़ अब तक 33 लोगों की जान ले चुकी है.

First published: 21 July 2018, 10:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी