Home » इंडिया » modi government amends instant triple talaq bill allowing magistrate to give bail, offence remains non bailable
 

तीन तलाक बिल पर नरम हुई मोदी सरकार, कैबिनेट ने बिल में संसोधन को दी मंजूरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2018, 16:11 IST

आखिरकार मोदी सरकार ने तीन तलाक बिल को लेकर नरम पड़ गई. लंबे समय से तीन तलाक को लेकर चली आ रही बहस के बाद मोदी सरकार ने तीन तलाक बिल में संसोधन को मंजूरी दे दी है. अब इस बिल में जमानत को मंजूरी दे दी है.

मीडिया खबरों के अनुसार, तीन तलाक बिल को लेकर मोदी कैबिनेट की गुरुवार को बैठक की गई. इसमें तीन तचलाक बिल में कुछ ससोंधनों को मंजूरी दे दी गई है. इसमें तीन तलाक को गैर जमानती अपराध तो माना है, लेकिन अब इसमें बदलाव कर मजिस्ट्रेट को बेल देने का अधिकार दे दिया है. इसके साथ ही इसमें एक और संसोधन को जोड़ दिया गया है. अब पीड़ित के सगे रिश्तेदार भी शिकायत दर्ज करा सकता है.

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक, 2017 को लोकसभा से पास करा लिया था लेकिन ये बिल राज्यसभा में आकर लटक गया था. राज्यसभा में इस बिल को लेकर तीखी नोक झोंक देखने को मिली थी. विपक्ष में इस विधेयक में कुछ खामी बताते हुए संसोधन की मांग की थी. लेकिन सरकार ने उसमें संसोधन किए जाने से इनकार कर दिया था.

कांग्रेस की तरफ से लोकसभा में बिल में पीड़ित महिला को पति के जेल जाने के बाद गुजारा भत्ता दिए जाने का संशोधन पेश किया गया था लेकिन यह संशोधन निचले सदन में गिर गया. माना जा रहा है कि मोदी सरकार इस बिल को संसद के दोनों सदनों पास कराकर साल 2019 में लोकसभा चुनाव में बड़ी उपलब्धि के रूप में पेश करना चाहती है.

ये भी पढ़ें-  तीन तलाक बिल पर राज्यसभा में आज मोदी सरकार को मिलेगी बडी़ चुनौती

First published: 9 August 2018, 15:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी