Home » इंडिया » Modi government gave another shock to China, now will not be send goods through other countries
 

मोदी सरकार ने चीन को दिया एक और बड़ा झटका, अब दूसरे देशों के जरिए सामान नहीं भेज पाएगा भारत

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 September 2020, 12:57 IST

India China Faceoff: देश की मोदी सरकार ने चीन को एक और बड़ा झटका दिया है. सरकार ने आत्मनिर्भर भारत और मेक इन इंडिया को प्रोत्साहित करने के लिए आयात कानून के तहत रूल्स ऑफ ओरिजिन लागू करने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं. मोदी सरकार के इस कदम से चीन अब वियतनाम, इंडोनेशिया और थाइलैंड जैसे देशों के रास्ते भारत में सामान नहीं भेज पाएगा.

सरकार द्वारा जारी रूल्स ऑफ ओरिजिन के नए दिशानिर्देश उन सभी देशों के लिए लागू होंगे, जो मुक्त व्यापार समझौता या प्रेफरेंशियल ट्रेड एग्रीमेंट से जुड़े हैं. बता दें कि भारत का आसियान देशों  के साथ एफटीए है. दूसरी तरफ चीन के साथ भी आसियान के 10 देशों में कई देशों का एफटीए है. इन देशों में वियतनाम, थाइलैंड और इंडोनेशिया शामिल हैं.

उसी तरह इंडोनेशिया और थाइलैंड जैसे देशों से भी चीन के उत्पाद में वैल्यू एडिशन कर भारत भेजा जा रहा था. चीन मुख्य रूप से अपने इलेक्ट्रॉनिक्स आइटम्स को वियतनाम और इंडोनेशिया जैसे देशों के रास्ते भारत भेजता था. इससे शुल्क भी कम लगता था और सामान सस्ता होने की वजह से भारत में आसानी से बिक भी जाता था.

Coronavirus: 24 घंटे में देश में आये 83,341 नए COVID19 मामले, अब तक कुल 68,472 मौतें

चीन की चालाकियों पर कसेगा शिकंजा

लेकिन अब केंद्र की मोदी सरकार चीन की इन चालाकियों को रोकने जा रही है. इसी लिए भारत सरकार ने ऐसा कदम उठाया है. अभी तक जिन देशों के साथ भारत का एफटीए या पीटीए था, वहां से आने वाले आइटम के लिए जो सर्टिफिकेट दिए जाते थे, उसे इंडिया आसानी से मान लेता था. भारत इन देशों के ओरिजिन के बारे में जांच नहीं करता था. लेकिन अब नए दिशानिर्देशों के बाद उन सभी उत्पादों और उसके सर्टिफिकेट की स्वतंत्र एजेंसी से जांच की जाएगी.

रेलवे ने इकलौती महिला सवारी के लिए चलाई राजधानी एक्सप्रेस, 535 किमी चलाकर पहुंचाया रांची

LAC विवाद : लेह पहुंचकर आर्मी चीफ बोले- जवानों का मनोबल ऊंचा, हर चुनौती के लिए तैयार

First published: 4 September 2020, 12:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी