Home » इंडिया » Modi Government giving Military Training for 10 lakh youth per year
 

देश के युवाओं में 'राष्ट्रवाद' पैदा करने के लिए डिफेंस ट्रेनिंग देगी मोदी सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 July 2018, 9:27 IST

देश के युवाओं में अनुशासन और राष्ट्रवाद पैदा करने के लिए मोदी सरकार ने एक नई तरकीब खोजी है. सरकार हर साल देश के 10 लाख युवाओं को डिफेंस ट्रेनिंग देने पर विचार कर रही है. इससे युवाओं में देश के प्रति निष्ठा और प्यार की भावना में इजाफा होगा.

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, सरकार देश की जनसांख्यिकी का लाभ लेने के लिए राष्ट्रीय युवा सशक्तिकरण योजना के तहत कक्षा 10, कक्षा 12 या कॉलेज में एडमिशन लेने वाले छात्रों को इसमें शामिल करेगी. 

मोदी सरकार इस योजना के तहत छात्रों को एक निश्चित स्टाइपेंड भी देगी और साथ ही डिफेंस, पैरामिलिट्री और पुलिस सेवाओं में करियर बनाने के लिए यह ट्रेनिंग करना अनिवार्य बनाएगी. 

पढ़ें- भारतीय सेना में अब नहीं बनेगा कोई ब्रिगेडियर, आर्मी ने खत्म किया पद

खबर के अनुसार, पीएमओ ने जून के अंतिम सप्ताह में इस संबंध में एक बैठक बुलायी थी. इसमें डिफेंस मिनिस्टरी के रिप्रजेंटेटिव्स, डिपार्टमेंट ऑफ यूथ अफेयर्स और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारी शामिल हुए थे.

पढ़ें- सर्जिकल स्ट्राइक मामले में मनोहर पर्रिकर का कांग्रेस पर तंज- सेना को राहुल गांधी को साथ ले जाना चाहिए था

इस दौरान कुछ अधिकारियों ने N-YES योजना के तहत आरक्षण देने की बात कही, वहीं कुछ अफसरों ने मौजूदा एनसीसी और एनएसएस के ढांचे को ही मजबूत करने की बात की. बताया जा रहा है कि युवाओं को सैन्य प्रशिक्षण के साथ ही सरकार वोकेशनल और आईआईटी स्किल्स, डिजास्टर मैनेजमेंट और भारतीय परंपराओं जैसे योगा, आयुर्वेद और प्रचीन भारतीय दर्शन की भी ट्रेनिंग देगी.

First published: 17 July 2018, 9:27 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी