Home » इंडिया » Modi government imposes 18% tax on worship stuffs and tax free on meat
 

'GST में पूजा सामग्री पर 18 फीसदी टैक्स और मांस टैक्स फ्री क्यों है?'

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 June 2017, 18:01 IST

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि ''हिन्दूवादी मोदी सरकार ने जीएसटी के तहत पूजा सामग्री पर 18% टैक्स और मांस को टैक्स फ्री कर दिया है.'' सोशल मीडिया पर तमाम ऐसे अकाउंट हैं, जो इस जानकारी को बिना पड़ताल किए शेयर कर रहे हैं. ऐसे मैसेज को शेयर करने से पहले सोशल मीडिया यूज़र्स ये भी पता करने की कोशिश नहीं कर रहे हैं कि इस दावे में कितनी सच्चाई है.

मैसेज में ये दावा किया जा रहा है कि 'मांस पर 0% GST और पूजा सामग्री पर 18% GST... क्या चाहती है सरकार कि सभी लोग मांसाहारी हो जाएं और पूजा पाठ बंद कर दें.' मगर सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रहा ये मैसेज सही नहीं है.

अगरबत्ती, धूपबत्ती और घी को छोड़कर पूजा से जुड़ी सभी जरूरी चीजें जीएसटी में टैक्स फ्री रखी गई हैं. अगरबत्ती-धूपबत्ती पर मौजूदा टैक्स 28% है, जिसे जीएसटी में घटाकर 12% किया गया है. इस लिहाज़ से वायरल मैसेज का सच यह है कि पूजा की ज़्यादातर सामग्री टैक्स फ्री है और अगरबत्ती-धूपबत्ती पर लगने वाला टैक्स कम कर दिया गया है.

जहां तक मांस को टैक्स फ्री रखने की बात है, तो उसमें भी सच्चाई नहीं है. सरकार ने जीएसटी के तहत सिर्फ कच्चे मांस को टैक्स फ्री रखा है, जबकि फ्रोजेन मांस पर 12% टैक्स और रेस्तरां में नॉनवेज खाने के लिए 18% टैक्स देना पड़ेगा.

First published: 23 June 2017, 18:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी