Home » इंडिया » Modi government is giving free ration by november 2020, do this urgent work to get it
 

नवंबर 2020 तक मोदी सरकार दे रही फ्री राशन, लेने के लिए जल्दी से कर लें ये जरूरी काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 July 2020, 9:17 IST

Coronavirus: कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवंबर 2020 तक देश के 80 करोड़ लोगों को फ्री राशन देने की बात कही है. केंद्र सरकार फ्री राशन प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (PMGKAY) के तहत दे रही है. अगर आपने राशन कार्ड नहीं बनवाया है तो आप इस योजना का लाभ नहीं ले सकते. यदि आप घर बैठे इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको ये जरूरी काम करने होंगे.

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए आपके पास राशनकार्ड होना अनिवार्य है. देश में 2 कैटेगिरी के राशन कार्ड बनते हैं. एक गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वालों के लिए तथा दूसरा गरीबी रेखा से ऊपर वालों के लिए. पहले वाली कैटेगरी के लिए बीपीएल राशन कार्ड जारी किया जाता है, दूसरे वालों के लिए APL राशन कार्ड जारी किया जाता है.

80 करोड़ लोगों को मिलेगा फ्री राशन

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना (एनएफएसए) के जरिए मोदी सरकार 80 करोड़ से अधिक लोगों को नवंबर 2020 तक फ्री राशन देगी. इसमें हर महीने 5 किलो गेंहू या चावल और 1 किलो चना मुफ्त दिया जाएगा. केंद्र सरकार हाल में ही 'वन नेशन, वन राशन कार्ड' योजना लागू करने का ऐलान किया है. इसके बाद कोई भी व्यक्ति अपने राशन कार्ड से देश के किसी भी राज्य में राशन प्राप्त कर सकेगा.

राशन कार्ड बनवाने के लिए आपको भारत का नागरिक होना चाहिए. इसके साथ आपकी उम्र 18 साल से अधिक होना अनिवार्य है. यदि आप 18 साल से कम उम्र के हैं तो आपका नाम मां-बाप के कार्ड में शामिल होगा. किसी भी व्यक्ति के पास अन्य राज्य का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए. इसके अलावा परिवार के किसी भी सदस्‍य का किसी भी राशन कार्ड में नाम नहीं होना चाहिए.

ग्वादर पोर्ट और आर्थिक गलियारा बचाने के लिए पाकिस्तान को चीन देने जा रहा है चार हमलावर ड्रोन

परिवार के मुखिया के नाम जारी होता है राशन कार्ड

परिवार में मुखिया के नाम पर राशन कार्ड जारी किया जाता है, जिनका नाम मुखिया के राशन कार्ड में जोड़ा जाता है, उनका परिवार के मुखिया से नजदीकी संबंध होना जरूरी है. राशन कार्ड बनवाने के लिए वैसे तो कोई केंद्रीय वेबसाइट नहीं है, लेकिन यदि आप राशनकार्ड बनवाना चाहते हैं तो हर राज्य सरकार ने इसके लिए अपने-अपने पोर्टल बनाए हुए हैं. इसके लिए अपने राज्य के फूड पोर्टल पर जाकर आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा.

उत्तर प्रदेश के लोग ऐसे कर सकते हैं अप्लाई

उत्तर प्रदेश के रहने वाले लोग fcs.up.gov.in पर जाकर राशन कार्ड एप्लीकेशन के लिए फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं. यहां 3 तरह के लोगों को लिए राशन कार्ड के फार्म उप्लब्ध हैं. जिनमें प्रवासी श्रमिकों, ग्रामीण और नगरीय क्षेत्र के लिए राशन कार्ड बनते हैं. इसे डाउनलोड करके सारी जानकारी दर्ज करनी होगी. fcs.up.gov.in पर विजिट करने पर एक पोर्टल खुलकर आ जाएगा.

Coronavirus: सीनियर डॉक्टर का दर्द- बेड हैं, वेंटिलेटर हैं, लेकिन मरीजों के इलाज के लिए डॉक्‍टर नहीं

'Download Forms' पर जाकर Ration Card Application Form पर क्लिक करना होगा. इसके बाद फॉर्म डाउनलोड करना होगा. इस पर दो विकल्प आ जाएंगे. पहला 'राशन कार्ड आवेदन प्रपत्र' ग्रामीण क्षेत्र तथा दूसरा 'राशन कार्ड आवेदन प्रपत्र' नगरीय क्षेत्र. आपको अपने एरिया के हिसाब से इन दोनों विकल्पों से एक को चुनना होगा.

इसके बाद आपको यह फॉर्म भरना होगा. इसके साथ आपको आधार कार्ड की फोटोकॉपी, एड्रेस प्रूफ की फोटोकॉपी, बैंक पासबुक की फोटोकॉपी, जाति प्रमाण पत्र की फोटोकॉपी तथा परिवार के सभी सदस्यों के आधार कार्ड की फोटोकॉपी अटैच करना पड़ेगा. फिर इस फार्म को नजदीकी राशन डीलर या फिर फूड सप्लाई ऑफिस में जमा करना होगा.

फार्म जमा करते समय देनी होगी फीस

ऑनलाइन आवेदन करने के दौरान आपको कुछ फीस जमा करना होगा. जब फॉर्म सब्मिट हो जाता है तो इसे फील्ड वेरिफिकेशन के लिए भेज दिया जाता है. 30 दिनों के भीतर यह काम पूरा हो जाता है. यदि आपके परिवार के किसी सदस्य का राशन कार्ड से नाम कट गया है तो इसके लिए राज्य सरकार की खाद्य आपूर्ति वेबसाइट पर जाकर यहां नए सदस्य का नाम जोड़ सकते हैं.

आधार से राशन कार्ड को लिंक कराना जरूरी

केंद्र सरकार ने राशन कार्ड को आधार से लिंक कराने की डेडलाइन बढ़ाकर 30 सितंबर 2020 कर दी है. UIDAI के अनुसार, राशन कार्ड धारक को खुद के आधार कार्ड समेत परिवार के सभी सदस्यों के आधार कार्ड की कॉपी तथा राशनकार्ड की कॉपी राशन बांटने वाली दुकान पर जाकर जमा कर सकता है. परिवार के मुखिया की पासपोर्ट साइज फोटो भी जमा करनी होगी.

भारत ने कर लिया एक करोड़ लोगों का कोरोना टेस्ट, सबसे ज्यादा टेस्टिंग वाले 5 देशों में शामिल

NSA डोभाल ने चीन के विदेश मंत्री से की थी संडे को फोन पर बात, LAC पर पीछे हटा चीन

First published: 7 July 2020, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी