Home » इंडिया » Modi Government will spend one lakh crore rupees for providing one crore jobs before 2019 Loksabha Election
 

2019 लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा दांव, 1 करोड़ लोगों को देने जा रही है नौकरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2018, 18:10 IST

2019 लोकसभा चुनाव से पहले केंद्र की मोदी सरकार बेरोजगार युवाओं पर मेहरबान होने जा रही है. खबर है कि मोदी सरकार एक करोड़ बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने जा रही है. खबर के अनुसार, केंद्र सरकार अगले तीन साल में एक करोड़ युवाओं को नौकरियां प्रदान करने के उद्देश्य से पूरे देश में मेगा राष्ट्रीय रोजगार क्षेत्र स्थापित करने के लिए 1 लाख करोड़ रुपये की योजना तैयार कर रही है. ये नौकरियां प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप में हो सकती हैं.

मोदी सरकार के इस प्रस्ताव को नीति आयोग के परामर्श से शिपिंग मंत्रालय द्वारा अंतिम आकार दिया जा रहा है. शिपिंग मंत्रालय ने विशेष उद्देश्य व्हीकल रूट के तहत तटीय राज्यों में 14 राष्ट्रीय रोजगार क्षेत्र स्थापित करने का प्रस्ताव रखा है. अगले साल आम चुनावों से पहले इसके आने की उम्मीद है. यह मोदी सरकार को नौकरी के प्रति अपने वादे को पूरा करने में मदद कर सकता है.

इकोनॉमिक टाइम्स की खबर के मुताबिक, रोजगार क्षेत्र में टैक्स हॉलिडेज, कैपिटल सब्सिडी और एकल-खिड़की निकासी जैसे राजकोषीय और गैर-राजकोषीय प्रोत्साहन होंगे, जो इन क्षेत्रों में विनिर्माण को स्थापित करने की इच्छुक कंपनियों द्वारा बनाई गई नौकरियों की संख्या से सीधे जुड़े हुए हैं.

इन क्षेत्रों में 35 इंडस्ट्रियल क्लस्टर होंगे. इनमें खाद्य, सीमेंट, फर्नीचर और इलेक्ट्रॉनिक्स के अलावा कपड़े, चमड़े, रत्न और आभूषण आदि शामिल होंगे. शिपिंग मंत्रालय ने मंजूरी के लिए व्यय वित्त समिति (ईएफसी) को नोट जारी कर दिया है जिसके बाद अंतर-मंत्रालयी परामर्श के लिए कैबिनेट नोट जारी किया जाएगा.

शुरुआती अनुमान से पता चलता है कि इन क्षेत्रों में आवश्यक बुनियादी ढांचे की स्थापना के लिए 1 लाख करोड़ रुपये की आवश्यकता होगी, जिसे केंद्र और राज्यों द्वारा साझा किया जाएगा, बाद में प्रत्येक राज्य में ऐसे क्षेत्रों को स्थापित करने के लिए कम से कम 2,000 एकड़ जमीन प्रदान की जाएगी. 

First published: 13 November 2018, 18:10 IST
 
अगली कहानी