Home » इंडिया » Modi Government will take bill in parliament at winter session for Ram Temple in Ayodhya
 

राम मंदिर निर्माण के लिए बड़ा कदम उठाने जा रही मोदी सरकार, शीतकालीन सत्र में लाएगी कानून !

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 October 2018, 13:10 IST

अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनवाने के लिए मोदी सरकार आने वाले लोकसभा चुनाव से पहले कुछ बड़े फैसले ले सकती है. माना जा रहा है कि शीतकालीन सत्र में मोदी सरकार इसके लिए कानून ला सकती है. बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले एक बार फिर राजनीति के केंद्र में राम मंदिर निर्माण का मुद्दा आ गया है. मोदी सरकार पर लगातार मंदिर निर्माण की मांग बढ़ती जा रही है. इससे मोदी सरकार पर दबाव भी बढ़ रहा है.

गुरुवार को आरएसएस चीफ मोहन भागवत ने भी राम मंदिर निर्माण को लेकर कानून लाने की मांग की है. नागपुर में विजयदशमी कार्यक्रम के मौके पर मोहन भागवत ने कहा कि मोदी सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए कानून लाए. उन्होंने कहा कि किसी भी रास्ते से राम मंदिर का निर्माण जरूर होना चाहिए.

इसके साथ ही मोदी सरकार पर मंदिर निर्माण के लिए दबाव और बढ़ गया है. कार्यकर्ताओं और मतदाताओं को जवाब देने से लेकर खुद को मंदिर निर्माण के लिए प्रतिबद्ध दिखाना भाजपा के लिए ज़रूरी होता जा रहा है. 

यहां तक कि संतों ने सरकार को इस मुद्दे पर घेरना शुरू कर दिया है कि मंदिर निर्माण में देरी वे बर्दाश्त नहीं करेंगे. संतों ने कहा है कि क्या भाजपा मंदिर निर्माण का अपना वादा भूल गई है और क्यों सुप्रीम कोर्ट के फैसले के इंतज़ार का बयान पार्टी की ओर से बार-बार दिया जा रहा है. संतों के एक बड़े वर्ग और राम मंदिर आंदोलन से जुड़े महंतों ने इस वर्ष 6 दिसंबर से अयोध्या में मंदिर निर्माण की घोषणा कर दी है.

यहां तक कि संत समाज ने धमकी भी दी है कि वो मंदिर निर्माण का काम शुरू कर देंगे, सरकार रोकना चाहती है तो रोके. ऐसे में माना जा रहा है कि सरकार का यह आखिरी संसद सत्र बहुत ही महत्वपूर्ण होगा. सरकार इसमें कानून लाकर राम मंदिर के निर्माण को हरी झंडी देना चाहेगी.

First published: 18 October 2018, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी