Home » इंडिया » Monsoon Session: 11 Bill in Lok Sabha and 45 Bill in Rajya Sabha pending
 

मानसून सत्र: 20 बैठक, 56 विधेयक और राज्यसभा में क्षेत्रीय क्षत्रपों का जोर

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 July 2016, 11:44 IST

संसद के मानसून सत्र का आज आगाज हो गया है. वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) बिल इस सत्र में सरकार के एजेंडे में सबसे ऊपर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्र की शुरुआत से पहले विपक्ष से कार्यवाही सुचारू रूप से चलाने के लिए सहयोग की अपील की.

जाहिर है जीएसटी बिल के साथ ही सरकार के सामने इस सत्र के दौरान कई अहम बिल पास कराने की चुनौती है. एक नज़र मानसून सत्र से जुड़ी अहम जानकारियों पर:

संसद का मानसून सत्र सोमवार को शुरू हो गया. इस बार का मानसून सत्र 12 अगस्त तक चलेगा. इस सत्र के दौरान मोदी सरकार कई अहम आर्थिक सुधारों को लेकर आगे बढ़ने की तैयारी में है. 

मानसून सत्र में सभी की निगाहें टिकी रहेंगी जीएसटी विधेयक पर,जिसको लेकर सत्तापक्ष, विपक्ष को साथ लेकर रजामंदी बनाने में जुटा है. हाल ही में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कोलकाता में राज्यों के वित्त मंत्रियों के साथ बैठक की थी. इसके बाद वित्त मंत्री ने कहा था कि लगभग सभी राज्य जीएसटी के समर्थन में हैं.

राज्यसभा में जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) समेत 45 बिल पास होने अभी बाकी हैं
हाल ही में हुए राज्यसभा चुनाव के बाद संसद के उच्च सदन का समीकरण बदला है
कश्मीर घाटी में बुरहान वानी की मौत के बाद जारी तनाव का मुद्दा इस सत्र में अहम है (फाइल फोटो)
उत्तराखंड के बाद अरुणाचल प्रदेश में सुप्रीम कोर्ट से केंद्र को लगे झटके को कांग्रेस बड़ी जीत मान रही है (पीटीआई)
First published: 18 July 2016, 11:44 IST
 
अगली कहानी