Home » इंडिया » Mother of woman at hotel claims Major Leetul Gogoi raided our home at night
 

मेजर गोगोई के साथ होटल में पकड़ी गई युवती की मां का खुलासा- आधी रात को घर में मारा छापा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 May 2018, 9:48 IST

जम्मू-कश्मीर के एक होटल से एक दिन पहले ही आर्मी के चर्चित मेजर गोगोई को हिरासत में लिया गया था. जम्मू-कश्मीर पुलिस के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के होटल ग्रैंड ममता से कॉल आने के बाद आर्मी ऑफिसर, स्थानीय नाबालिग लड़की और एक ड्राइवर को हिरासत में लिया गया था. आरोप है कि मेजर लड़की के साथ रात बिताने वाले थे.

आज उस मामले में मेजर एक और आरोप में फंसते नजर आ रहे हैं. दरअसल मेजर गोगोई जिस युवती के साथ होटल से हिरासत में लिए गए थे उस युवती की मां ने मेजर पर गंभीर आरोप लगाए हैंं. युवती की मां का कहना है कि गोगोई ने देर रात उनके घर पर दो बार छापेमारी की थी और वह दोनों ही बार छापेमारी के दौरान समीर अहमद के साथ आए थे जोकि होटल में भी उनके साथ गया था.

महिला ने कहा कि पहली बार जब सेना हमारे घर आई तो मैं डर गई थी. दोनों ही बार मेजर गोगोई समीर के साथ आए थे, उन्होंने हमे चेतावनी दी थी कि इसके बारे में किसी को नहीं बताए.
 
महिला ने कहा कि बुधवार को उनकी बेटी ने कहा था कि वह बैंक में पैसा जमा करने के लिए गई थी, मैंने उसे 500 रुपए जमा करने के लिए दिया था, वह अपना बैग लेकर घर से गई थी, साथ ही कुछ दस्तावेज भी ले गई थी. महिला ने बताया कि उनकी बेटी 17 साल की है, लेकिन पुलिस का कहना है कि वह बालिग है.

बता देें कि कल होटल ग्रैंड ममता के मालिक मंसूर अहमद ने बताया था कि आर्मी के एक मेजर ने ऑनलाइन होटल की बुकिंग कराई थी. वह श्रीनगर एयरपोर्ट से सीधा होटल पहुंचे थे. होटल मालिक ने बताया था कि मेजर ने रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर दो लोगों का नाम लिखा था. होटल मैनेजमेंट ने उनसे दो आधार कार्ड देने के लिए कहा. इसके बाद उन्होंने जो दूसरा आधार कार्ड दिया वह एक लोकल कश्मीरी लड़की का था. अहमद ने बताया कि वह लड़की नाबालिग थी.

अहमद के अनुसार, होटल का कमरा असम से गोगोई के नाम से बुक किया गया था. वह 24 मई को चेकआउट करने वाले थे. पुलिस ने बताया कि पुलिस दल मौके पर पहुंचा और सेना के मेजर गोगोई सहित सभी लोगों को पुलिस थाने ले आई. पुलिस महानिरीक्षक एस.पी. पानी ने घटना के संबंध में श्रीनगर(उत्तर) के पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में एसआईटी जांच के आदेश दिए हैं.

पुलिस के अनुसार, पूछताछ में लड़की ने बताया कि वह सेना के अधिकारी से मिलने आई थी. सेना के अधिकारी की पहचान पुलिस द्वारा की गई और उनका बयान दर्ज करने के लिए उन्हें उनकी यूनिट को सौंप दिया गया. वहीं पुलिस महिला का बयान दर्ज कर रही है और मामले की जांच की जा रही है. पुलिस ने कहा कि दोपहर 11 बजे होटल ग्रांड से किसी झगड़े के बारे में हमें फोन किया गया.

आपको बता दें कि मेजर गोगोई वही मेजर हैं जिन्होंने साल 2017 के लोकसभा उपचुनाव में एक कश्मीरी युवक फारूख डार को पथराव की घटना के दौरान बडगाम जिले में अपने जीप के बोनेट पर बांधकर कई गांवों में घुमाया था. इसके बाद वह सुर्खियों में आए थे. दरअसल ड्यूटी री-जॉइन करने से पहले आर्मी ऑफिसर लड़की के साथ रात बिताने वाले थे.

पढ़ें- कुमारस्वामी के CM बनने से पहले बाजार को ऐसे लगा एक लाख करोड़ से ज्यादा का झटका

इस पूरे मामले पर कश्मीरी युवक फारूक डार ने कहा, "हमारे आसपास यह सब क्या हो रहा है. इस शर्मनाक हादसे से मेजर का असली चेहरा सामने आ गया."

First published: 25 May 2018, 9:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी