Home » इंडिया » mother teresa founders award posthumously in uk
 

मदर टेरेसा को मरणोपरांत ब्रिटेन का फाउंडर्स अवॉर्ड दिया गया

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2016, 18:40 IST

मदर टेरेसा को ब्रिटेन के सबसे प्रतिष्ठित फाउंडर्स अवॉर्ड से मरणोपरांत सम्मानित किया गया है. यह सम्मान वैश्विक एशियाई समुदाय के लोगों को उनकी अनुकरणीय उपलब्धियों को मान्यता देता है और उन्हें पुरस्कृत करता है.

मदर टेरेसा की एक मात्र जीवित रिश्तेदार 72 वर्षीय उनकी भतीजी अगी बोजाझीयू खासतौर पर यह पुरस्कार लेने के लिए इटली से लंदन आई थीं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक मदर टेरेसा को चार सिंतबर को संत घोषित किया जाएगा. उन्होंने मिशनरीज ऑफ चैरिटी की स्थापना की थी.

मदर ने कोलकाता की सड़कों पर लगभग 45 साल तक गरीब, बीमार, अनाथ और बेहसाहरा लोगों की सेवा की थी. मदर टेरेसा का साल 1997 में 87 साल की उम्र में कोलकाता में निधन हो गया था.

कल ब्रिटेन में छठें एशियन अवॉर्ड में फाउंडर्स अवार्ड का भी आयोजन किया गया था. यह पुरस्कार एशियाई समुदाय के लोगों की अनुकरणीय उपलब्धियों को मान्यता देता है और उन्हें पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है.

यह पुरस्कार व्यापार, लोकसेवा, मनोरंजन, संस्कृति और खेल सहित 14 श्रेणियों में दिया जाता है.

एशियन पुरस्कार की शुरुआत साल 2010 में पॉल सागो ने की थी जो कि ब्रिटेन के मशहूर उद्यमी हैं और लेमन समूह के संस्थापक हैं.

सागो ने कहा कि मदर टेरेसा को उनके संत बनने वाले साल में सम्मानित करना गर्व का विषय है. यह हमारे इतिहास को एक नई पहचान देगा.

First published: 9 April 2016, 18:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी