Home » इंडिया » Motor Vehicle Act 2019: A man driving two wheeler while wearing slipper get Challan
 

चप्पल पहनकर और शर्ट की बटन खोलकर चला रहा था गाड़ी, ट्रैफिक पुलिस ने काटा इतना भारी चालान

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 September 2019, 17:10 IST

1 सितंबर से देश में प्रभावी हुए नए मोटर वाहन अधिनियम 2019 के बाद ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर वाहन चालकों पर भारी-भरकम जुर्माना लगाया जा रहा है. आपको जानकर हैरानी होगी कि व्हीकल ऐक्ट के तहत चप्‍पल या सैंडल पहनकर बाइक चलाने पर भी जुर्माना लगता है. हवाई चप्पल पहनकर गियर वाला दोपहिया चलाना ट्रैफिक रूल के खिलाफ है.

ऐसे ही एक चालान का मामला राजस्थान की राजधानी जयपुर से आया है. जहां एक इंस्पेक्टर ने टैक्सी ड्राइवर का चालान इसलिए काट दिया क्योंकि टैक्सी ड्राइवर ने कुर्ता-पायजामा और चप्पल पहना हुआ था. चप्पल पहनकर और कुर्ते का बटन खोलकर टैक्सी चलाने के लिए उसका चालान काट दिया गया.

 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जयपुर के संजय सर्किल थाने के एक इंस्पेक्टर ने टैक्सी ड्राइवर का 1600 रुपये का चालान काटा. बताया गया कि ड्राइवर के कुर्ते का ऊपर का बटन खुला होने की वजह से भी यह चालान काटा गया. अजीबो-गरीब चालान काटने का यह मामला 6 सितंबर का है.

इस मामले को अब कोर्ट भेजा जा चुका है. ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि नए नियम के मुताबिक टैक्सी ड्राइर को ड्रेस कोड पहनना अनिवार्य है. इसमें नीली शर्ट और नीला पैंट पहनने का प्रावधान है. शहर में आने वाले पर्यटकों और शहर के लोगों की सुरक्षा को देखते हुए यह नियम सख्ती से लागू किया गया है. फिलहाल राजस्थान में केंद्र सरकार द्वारा लागू किया गया नया मोटर व्हीकल एक्ट अभी लागू नहीं किया गया है.

बता दें कि चप्‍पल या सैंडल पहनकर दोपहिया वाहन चलाने पर काफी पहले से जुर्माने का प्रावधान है. हालांकि यह नियम अभी तक सख्‍ती से लागू नहीं होता था, लेकिन अब चप्पल या सैंडल पहनकर बाइक चलाने पर चालान को सख्ती से लागू किया जा रहा है. ट्रैफिक अधिकारियों के अनुसार, हवाई चप्पल पहनकर गियर वाला दोपहिया वाहन चलाना ट्रैफिक रूल के विरुद्ध है.

जानिए कितना है चालान?

ड्राइविंग लाइसेंस नहीं – 5 हज़ार रुपये

गाड़ी की आरसी नहीं  – 5 हज़ार रुपये

गाड़ी का इंश्योरेंस नहीं –  2 हज़ार रुपये

प्रदूषण सर्टिफिकेट नहीं  – 10 हज़ार रुपये

हेलमेट नहीं या उतारकर रखे हैं – 1 हज़ार रुपये

First published: 24 September 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी