Home » इंडिया » MP Election 2018: Congress will ban RSS Shakha in Government buildings
 

कांग्रेस का दावा, सत्ता में आए तो इन जगहों पर RSS की शाखाओं पर लगेगा बैन

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 November 2018, 9:44 IST

मध्य प्रदेश चुनाव 2018 के लिए कांग्रेस ने अपना घोषणापत्र जारी कर दिया है. सत्ता पाने के लिए कांग्रेस एमपी में हर दांव खेलने को तैयार है. मध्य परदेश चुनावों में शिवराज सिंह के नेतृत्व वाली भाजपा को टक्कर देने के लिए कांग्रेस के कई दिग्गज नेता पर्दे के पीछे से भी रणनीति बनाएं में लगे हुए हैं. कांग्रेस ने कल ही अपना चुनावी घोषणापत्र जारी किया है जिसमे विचारधारा के तौर पर धुर विरोधी राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ पर प्रतिबंध लगाने की बात कही है. कांग्रेस के घोषणापत्र में लिखा गया है, ''शासकीय परिसरों में आरएसएस की शाखायें लगाने पर प्रतिबंध लगायेंगे. शासकीय अधिकारी और कर्मचारियों को शाखाओं में छूट संबंधी आदेश निरस्त करेंगे.''

 गौरतलब है कि आरएसएस और कांग्रेस के बीच वैचारिक मतभेद रहा है. कांग्रेस संघ पर धर्म और संप्रदाय के नाम पर समाज को बांटने का आरोप लगाती आयी है वहीं संघ कांग्रेस पर समाज को बांटने का आरोप लगाती रही है. आरएसएस को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम ने कहा, "जब उन्होंने साढ़े चार पहले चुनाव लड़े थे, तब उन्होंने विकास, नौकरी और ग्रोथ की बात की थी. वे इन तीनों में पूरी तरह से विफल रहे हैं. वे ना तो विकास, नौकरी और ना ही ग्रोथ को हासिल कर पाए हैं. वे अब अपने पुराने एजेंडे हिंदुत्व की ओर लौट चुके हैं. ऐसे में अब वे हिंदुत्व, विशाल मंदिर, भव्य मूर्तियों की बातें कर रहे हैं."

 

क्या है कांग्रेस के घोषणापत्र में
चुनावों के चलते कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में राज्य के बहुचर्चित घोटाले व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) की परीक्षाओं में पिछले 10 सालों में शामिल हुए लाखों उम्मीदवारों का शुल्क वापस लौटाने का वादा किया है. इसी के साथ कांग्रेस का वादा है कि सूबे में भर्ती घोटाले के लिए कुख्यात ‘व्यापमं’ को सत्ता में आने पर कांग्रेस बंद कर देगी.

जिस ट्रीटमेंट प्लांट का PM मोदी करने वाले थे उद्घाटन, उसी में सफाई करने उतरे दो कर्मियों की मौत 

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने पार्टी के घोषणापत्र को ‘वचन पत्र’ के नाम से जारी किया. इसी के साथ कमलनाथ ने कहा, ‘‘प्रदेश में सत्ता में आने पर कांग्रेस व्यापमं को बंद कर उसके स्थान पर राज्य कर्मचारी चयन आयोग का गठन करेगी .’’ कांग्रेस के घोषणापत्र जारी करने के दौरान ज्योतिरादित्य सिंधिया जो कि प्रदेश कांग्रेस चुनाव प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष हैं उनके साथ ही कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्वियज सिंह और नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह सहित अन्य वरिष्ठ नेता भी मौजूद थे.

First published: 11 November 2018, 9:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी