Home » इंडिया » MP: Government issues notice to IAS Ajay Gangwar on anti Modi social media comment
 

पीएम के खिलाफ सोशल कमेंट पर आईएएस अजय गंगवार को नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST
(फेसबुक)

मध्य प्रदेश में आईएएस अफसर अजय गंगवार को राज्य सरकार ने नोटिस जारी किया है. दरअसल गंगवार पर आरोप है कि उन्होंने पीएम मोदी के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी की थी.

इससे पहले अजय गंगवार ने अपने फेसबुक पेज पर देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की तारीफ की थी. उस वक्त अजय गंगवार बड़वानी के कलेक्टर के रूप में कार्यरत थे. हालांकि विवाद होने पर गंगवार ने अपना पोस्ट फेसबुक से हटा लिया था.

लेकिन राज्य सरकार ने अजय गंगवार का भोपाल सचिवालय में उप सचिव के पद पर तबादला कर दिया. अजय गंगवार को फ़ेसबुक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ एक पोस्ट को लाइक करने के मामले में ये नोटिस जारी किया गया है.

पढ़ें: एमपी: तबादले पर आईएएस गंगवार बोले, नेहरू की तारीफ वैचारिक मुद्दा

राज्य सरकार की ओर से 30 मई को जारी नोटिस में कहा गया है कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरुद्ध जनक्रांति की बात करते हुए एक पोस्ट पर कमेंट किया है, जो सर्विस कोड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन है.

मोदी विरोधी कमेंट का आरोप

हालांकि अजय गंगवार का ये कमेंट 23 जनवरी, 2015 का है. जिसमें नरेंद्र मोदी की नीतियों के खिलाफ एक लेख लिखा गया था. इसको लाइक करते हुए गंगवार ने कमेंट किया था, ''मोदी के खिलाफ लोगों की क्रांति होनी चाहिए."

पढ़ें: नेहरू की तारीफ पर एमपी में कलेक्टर का तबादला

वहीं नोटिस से नाराज आईएएस अजय गंगवार एक हफ्ते की छुट्टी पर चले गए हैं. उन्होंने किसी भी तरह से सर्विस नियम का उल्लंघन करने से इनकार किया है. गंगवार ने कहा, "नोटिस का जवाब दिया जाएगा. मैंने सरकार के खिलाफ कुछ भी नहीं किया है." 

नेहरू की तारीफ पर तबादला

आईएएस अफसर अजय गंगवार 25 मई को उस वक़्त चर्चा में आए, जब उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की अपने फेसबुक पेज पर तारीफ कर दी. विवाद बढ़ता देखकर उन्होंने पोस्ट को डिलीट कर दिया था. 

राज्य सरकार ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए उनका तबादला कर दिया था. अपने पोस्ट में गंगवार ने कहा था कि नेहरू ने आजादी के बाद देश को हिंदू तालिबान बनने से रोका था. साथ ही गंगवार ने कहा था कि उनके बारे में नई पीढ़ी को जानने का हक है.

पढ़ें:मध्य प्रदेश: नेहरू की तारीफ में कलेक्टर के फेसबुक पोस्ट पर कलह

गंगवार ने तबादले के फैसले को राज्य सरकार का विशेषाधिकार बताया था, लेकिन साथ ही उन्होंने कहा था कि नेहरू की तारीफ करना वैचारिक मामला है. आईएएस अजय गंगवार को राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह का करीबी माना जाता है.

First published: 1 June 2016, 5:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी