Home » इंडिया » MP: IAS officer Ajay Gangwar who praised Nehru in FB post transferred
 

नेहरू की तारीफ पर एमपी में कलेक्टर का तबादला

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 May 2016, 18:39 IST
(फेसबुक)
QUICK PILL
  • मध्य प्रदेश में बड़वानी के कलेक्टर अजय गंगवार के फेसबुक पोस्ट का मुद्दा अब सियासी विवाद में तब्दील हो चुका है. गंगवार ने फेसबुक पर पूर्व प्रधानमंत्री नेहरू की तारीफ की थी.
  • गंगवार ने अपने पोस्ट में लिखा था कि नेहरू ने आजादी के बाद देश को हिंदू तालिबान बनने से रोका. गंगवार ने अपने पोस्ट में आसाराम और योगगुरु रामदेव पर भी टिप्पणी की थी.

मध्य प्रदेश में बड़वानी जिले के कलेक्टर अजय गंगवार को फेसबुक पर नेहरू-गांधी परिवार की तारीफ महंगी पड़ी है. राज्य सरकार ने कलेक्टर गंगवार का तबादला कर दिया है.

उन्हें बड़वानी के कलेक्टर पद से हटाकर भोपाल स्थित सचिवालय में उपसचिव की जिम्मेदारी दी गई है. गंगवार ने अपने फेसबुक पेज पर देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की नीतियों की तारीफ की थी. हालांकि इस पर विवाद के बाद उन्होंने अपनी टिप्पणी हटा ली थी.

मामला मध्य प्रदेश के मुख्य सचिव के पास पहुंचा था. इसके बाद माना जा रहा था कि कलेक्टर के खिलाफ कार्रवाई होगी. इससे पहले नरहिंहपुर जिले के कलेक्टर सीबी चक्रबर्ती के फेसबुक पोस्ट पर विवाद मचा था. चक्रबर्ती ने तमिलनाडु में एआईएडीएमके प्रमुख जयललिता की जीत पर तारीफ करते हुए फेसबुक पर टिप्पणी की थी.

कांग्रेस ने दी आंदोलन की चेतावनी

मध्य प्रदेश के सामान्य प्रशासन मंत्री लाल सिंह आर्य ने बड़वानी के कलेक्टर अजय गंगवार के पोस्ट पर आपत्ति जताई थी. लाल सिंह आर्य ने कहा था, "सिविल सेवा आचरण नियम का उल्लंघन नहीं किया जाना चाहिए. अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता सभी को है, लेकिन नियमों का भी पालन होना चाहिए."

इस बीच इस मुद्दे पर सियासत भी गरमा गई है. कांग्रेस ने कहा है कि अगर आईएएस अफसर अजय गंगवार के तबादले का आदेश वापस नहीं लिया गया, तो कांग्रेस राज्य में प्रदर्शन करेगी. सियासी हलकों में अजय गंगवार को राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह का करीबी भी माना जाता है.

पढ़ें: मध्य प्रदेश: नेहरू की तारीफ में कलेक्टर के फेसबुक पोस्ट पर कलह

फेसबुक पोस्ट में क्या लिखा था?

आईएएस अफसर अजय गंगवार का फेसबुक पोस्ट (फेसबुक)
First published: 27 May 2016, 18:39 IST
 
अगली कहानी