Home » इंडिया » MP: Udit raj attacked on CM shivraj statement on SC/ST Act, there will be no arrest without investigation
 

SC/ST एक्ट पर मध्य-प्रदेश में घमासान, CM शिवराज पर भड़के BJP सांसद

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2018, 12:36 IST

SC/ST एक्ट को लेकर मध्यप्रदेश के राजनीति गलियारों में घमासान मच गया है. मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने SC/ST एक्ट को लेकर ब्यान दिया है कि बिना जांच के कोई भी गिरफ्तारी नहीं की जाएगी. सीएम शिवराज के इस बयान पर भारतीय जनता पार्टी के सांसद उदित राज ने नाराजगी जताई है. उदित राज का कहना है कि सीएम को अपने बयान को वापस ले लेना चाहिए क्योंकि उनके इस बयान से दलितों की नाराजगी बढ़ सकती है.

गौरतलब है कि सीएम शिवराज ने अपने ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया था कि मध्य प्रदेश में एससी-एसटी एक्ट में बिना जांच के गिरफ्तारी नहीं की जाएगी. उन्होंने कहा कि एमपी में एससी/एसटी एक्ट का दुरुपयोग नहीं होगा.

इस एक्ट के बार में बात करते हुए शिवराज ने कहा कि राज्य सरकार केंद्र सरकार के इस अध्यादेश के एवज में कोई अन्य अध्यादेश लाएगी या नहीं इस बारे में में नहीं कह सकता. में ये जनता हूं कि राज्य में सवर्ण, पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति, जनजाति सभी वर्गों के हितों को सुरक्षित रखा जाएगा, जो भी शिकायत आएगी, उसकी जांच के बाद ही किसी की गिरफ्तारी होगी.

उदित राज ने किया विरोध

सीएम शिवराज के इस बयान को लेकर उदित राज ने नाराजगी में कहा, इस मामले में मैं तकलीफ महसूस कर रहा हूं कि ऐसा बयान क्यों दिया है. हमारी सरकार कानून मजबूत करती है और हमारे चीफ मिनिस्टर डाइल्यूट करते हैं. इससे बड़ी बेचैनी महसूस कर रहा हूं. फोन भी आ रहे हैं. समाज के अंदर फिर से निराशा है. आक्रोश पैदा हो गया है, इसलिए इस पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए.''

आगे उदित राज ने कहा कि हमारे समाज में एकता होनी चाहिए, ये जरुरी है. लोगों के बीच जो एक फासला बन गया है उसे दूर किया जाना चाहिए. अगर ऐसा ही रहा तो इससे जातिवाद और भी ज्यादा बढ़ जाएगा.

इस मामले में गंभीरता दिखाते हुए उदित राज ने कहा, ''चौहान साहब से बातचीत करूंगा. मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष से भी बात करूंगा. एससी-एसटी के मामले में ही क्यों ऐसा दोहरा चरित्र, दोहरा मापदंड अपनाया जा रहा है. शिवराज सिंह चौहान को कहूंगा कि वह इस मामले को वापस लें, इस बयान को वापस लें.''

First published: 21 September 2018, 12:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी