Home » इंडिया » Mumbai-Ahmedabad bullet train project opposed by Gujrat Farmers for land acquisition
 

मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन के विरोध में उतरे गुजरात के किसान, पहुंचे हाई-कोर्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 September 2018, 12:07 IST
(File Photo)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट मुंबई-अहमदाबद बुलेट ट्रेन शुरू होने के पहले ही अटकलों का सामना कर रहा है. बुलेट ट्रेन के विरोध में करीब 1000 किसान हाई कोर्ट पहुंच गए हैं. इस मामले में भूमि अधिग्रहण को लेकर किसानों ने इस प्रोजेक्ट का विरोध किया है. किसानों का कहना है कि इस प्रोजेक्ट के लिए उनकी जमीन का अधिग्रहण न किया जाए.

इस मामले में पहले से पांच याचिकाए दायर हैं जिन पर मुख्य न्यायाधीश आर सुभाष रेड्डी और जस्टिस वी एम पांचोली की एक खंडपीठ सवाई कर रही है. इस जमीन अधिग्रहण के विरोध में करीब 1000 किसानों ने गुजरात हाई कोर्ट में हलफनामा दायर कर प्रस्तावित मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना का विरोध किया.

किसानों का कहना है कि केंद्र की इस 1.10 लाख करोड़ रूपये की परियोजना से किसान प्रभावित हो रहे हैं. बुलेट ट्रेन के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले मार्ग पर किसानों की जमीन है जिनके अधिग्रहण का किसान विरोध कर रहे हैं. दायर याचिका में किसानों में ये भी कहा कि मौजूदा भू अधिग्रहण प्रक्रिया जापान इंटरनेशनल कोऑपरेशन एजेंसी (जेआईसीए) के नियमों से अलग है.

2014 से अब तक PM मोदी की संपत्ति में हुआ लाखों का इजाफा, लेकिन नहीं खरीदी एक भी कार

किसानों ने अदालत को बताया कि इस मामले में न तो उनकी सहमति ली गई न ही भूमि अधिग्रहण की कार्रवाई करते हुए उनसे कोई परामर्श किया गया.

 

First published: 19 September 2018, 11:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी