Home » इंडिया » Muzaffarpur Acute Encephalitis Syndrome death toll rises to 112 in Bihar
 

मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से अबतक 112 बच्चों की मौत, पिछले 24 घंटे में मिले 75 नए केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2019, 10:12 IST

बिहार में चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों की संख्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है. मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से पीड़ित 112 बच्चों की अबतक मौत हो चुकी है. साथ पिछले 24 घंटे में चमकी के 75 नए मामले और सामने आए हैं. इन सभी को मुजफ्फरपुर के मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है. वही चमकी बुखार से पीड़ित 418 बच्चों का इलाज चल रहा है. इनमें से कई बच्चों की हालत गंभीर बताई जा रही है.

इन सबके बावजूद सरकार ने बच्चों को इस बीमारी से बचाने की कोई ठोस कोशिश नहीं की है. और ना ही डॉक्टर ये बता पा रहे हैं कि आखिर इन सब बच्चों की मौत किस बीमारी से हो रही है. इस बुखार को मुजफ्फरपुर सहित पूरे बिहार में चमकी कहा जा रहा है. लेकिन इस बीमारी की असल वजह अबतक सामने नहीं आई है.

चमकी बुखार से हुई 112 बच्चों की मौत में से 93 बच्चों की मौत श्रीकृष्णा मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में हुई है और बाकी बचे 19 बच्चों की मौत केजरीवाल अस्पताल में हुई है. मंगलवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी मुजफ्फरपुर का दौरा किया था. लेकिन लोगों ने यहां नीतीश का जबरदस्त विरोध किया था, क्योंकि नीतीश कुमार बच्चों की मौत के शुरुआत के करीब 20 दिनों बार मुजफ्फरपुर पहुंचे थे.

यही नहीं अब चमकी बुखार से हो रही मौतों का मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है. दो वकीलों ने जनहित याचिका दायर कर मांग की है कि बीमारी से प्रभावित इलाकों में केंद्र और बिहार सरकार को 500 आईसीयू बनाने का आदेश दिया जाए. साथ ही प्रभावित इलाकों में मेडिकल एक्सपर्ट टीम भेजने के निर्देश दिए जाएं और 100 मोबाइल ICU मुजफ्फरपुर भेजे जाएं. यही नहीं यहां मेडिकल बोर्ड का गठन किए जाने की मांग भी की गई है.

First published: 19 June 2019, 10:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी