Home » इंडिया » N Chandrababu Naidu’s Praja Vedike building demolition in Amaravati
 

Video: कुर्सी छिनते ही चंद्रबाबू नायडू पर टूटा मुसीबतों का पहाड़, आधी रात में आलीशान बंगले पर चला बुलडोजर

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 9:11 IST

आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू पर सत्ता से जाते ही मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है. राजधानी अमरावती स्थित उनके आलीशान बंगले प्रजा वैदिक पर आधी रात को बुलडोजर चला दिया गया. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी के आदेश के बाद पूर्व मुख्यमंत्री और तेलगु देशम पार्टी के अध्यक्ष एन चंद्रबाबू नायडू के इस बंगलो को ध्वस्त करने का काम शुरु हो गया है.

जिसके लिए मंगलवार आधी रात को ही बुलडोजर ने बंगले को गिराना शुरु कर दिया. प्रजा वैदिका को ध्वस्त करने की खबर मिलते ही एन चंद्रबाबू नायडू के हजारों समर्थक वहां पहुंच गए और बंगले को गिराने का विरोध करने लगे. हालांकि पुलिस की मौजूदगी बंगले को गिराने का काम होता रहा.

इससे पहले मंगलवार को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने चंद्रबाबू नायडू के परिवार की सुरक्षा कम करने का फैसला लिया था. रेड्डी सरकार ने उनके बेटे और पूर्व राज्य मंत्री नारा लोकेश से जेड श्रेणी की सुरक्षा को वापस ले लिया. अब नारा लोकेश की सुरक्षा 5+5 से घटाकर 2+2 कर दी गई. साथ ही चंद्रबाबू के परिवार के अन्य सदस्यों की सुरक्षा भी वापस ले ली गई.

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने 'प्रजा वेदिका' बंगले को तोड़ने के आदेश दिए थे. इसी बंगले में पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू रहा करते थे. लेकिन सीएम जगनमोहन के आदेश के अनुसार मंगलवार रात से ही इसे गिराने का काम शुरु हो गया.

बता दें कि चंद्रबाबू नायडू ने कुछ दिन पहले ही जगनमोहन रेड्डी को चिट्ठी लिखकर 'प्रजा वेदिका' को नेता प्रतिपक्ष का सरकारी आवास घोषित करने की मांग की थी, लेकिन राज्य सरकार ने शनिवार को चंद्रबाबू नायडू इस बंगले को अपने कब्जे में ले लिया. वहीं टीडीपी ने इसे राज्य सरकार की बदले की कार्रवाई बताया है.

बता दें कि नायडू सरकार ने प्रजा वेदिका का निर्माण आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण के जरिए तत्कालीन मुख्यमंत्री आवास के रूप में करवाया था. जिसे बनाने में करीब आठ करोड़ रुपये की लागत आई थी. इसी बंगले का इस्तेमाल चंद्रबाबू नायडू आधिकारिक कार्यों के साथ ही पार्टी की बैठकों के लिए करते थे.

पीएम मोदी और विदेश मंत्री एस. जयशंकर की आज होगी अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो से मुलाकात

First published: 26 June 2019, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी