Home » इंडिया » Narendra Modi and France President Emmanuel Macron inaugurated solar palnt in mirjapur
 

पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने मिर्जापुर में सोलर प्लांट का किया उद्घाटन

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 March 2018, 13:15 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों का मिर्जापुर में परंपरागत तरीके से स्वागत किया गया. सोलर प्लांट का उद्घाटन करने पहुंचे दोनों नेताओं का मिर्जापुर की स्थानीय देवी मां विंध्यवासिनी की चुनरी से स्वागत किया गया. प्रधानमंत्री के साथ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने 650 करोड़ की लागत से बने सौ मेगा वॉट के सोलर प्लांट का उद्घाटन किया.

यह प्लांट दादरकला में 650 करोड़ रुपए की लागत से बना है. दादरकला में 382 एकड़ में स्थापित सोलर प्लांट ने उद्घाटन के बाद काम शुरु कर दिया. 650 करोड़ की लागत से बने इस प्लांट से बिजली उत्‍पादन को जिगना पावर हाउस के ग्रिड से जोड़ा गया है. प्रथम चरण में 75 मेगावाट बिजली का उत्‍पादन किया जा रहा है धीरे धीरे इसकी क्षमता को बढा कर 100 मेगावाट किया जाना है.

 

ये भी पढ़ें- किसानों के सड़क पर उतरने पर बोले राहुल गांधी: ये महाराष्ट्र ही नहीं पूरे देश के किसानों का मुद्दा

इसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी तथा फ्रांस के राष्ट्रपति वाराणसी के लिए रवाना हो गए. जहां दोनों नेता गंगा और घाटों के दर्शन के साथ-साथ काशी की विरासत के साक्षी बनेंगे. इन ऐतिहासिक क्षणों में मैक्रों के साथ उनकी पत्नी मैरी क्लाउड भी होंगी. पीएम मोदी इस दौरान अपने संसदीय क्षेत्र में 55 करोड़ 72 लाख रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण और 718.87 करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे.

 

पीएम नरेंद्र मोदी की अगवानी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ ही राज्यपाल राम नाईक, सीएम योगी आदित्यनाथ पुराने टर्मिनल भवन के वीआईपी लाउंज में गए. इससे पहले राज्यपाल राम नाईक तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वाराणसी के एयरपोर्ट पर पहुंचे थे.

गौरतलब है कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों चार दिन के दौरे पर भारत में हैं. मैक्रों शुक्रवार देर रात दिल्ली पहुंचे थे, जहां एयरपोर्ट जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खुद उनका स्वागत किया था.

यह पहली बार नहीं है कि जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसी दूसरे देश के राष्ट्राध्यक्ष को वाराणसी ले जाएंगे. इससे पहले जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भी वाराणसी ले गए थे, दोनों नेताओं ने वहां गंगा आरती में भी हिस्सा लिया था.

ये भी पढ़ें- 1993 मुंबई ब्लास्ट के 25 साल पूरे, आज भी बेखौफ घूम रहा दाऊद इब्राहिम

First published: 12 March 2018, 13:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी