Home » इंडिया » Narendra Modi Government spent 5245 crore rupees on publicity of govt schemes in last four year
 

मोदी सरकार ने विज्ञापन पर लुटाया सरकारी खजाना, चार साल में खर्च कर दिए 5245 करोड़ रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 December 2018, 12:19 IST

केंद्र की मोदी सरकार ने अपने चार साल के कार्यकाल में अब तक सरकारी योजनाओं के प्रचार प्रसार में कुल 5245.73 करोड़ रुपये खर्च कर दिए हैं. केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने गुरुवार(27 दिसंबर) को लोकसभा में बताया कि पिछले चार साल मेें केंद्र सरकार ने सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार में 5245.73 करोड़ रुपये खर्च किए हैं.

राज्यवर्धन सिंह राठौर ने बताया कि यह धनराशि साल 2014 से लेकर सात दिसंबर 2018 तक की अवधि के दौरान खर्च हुई है. उन्होंने बताया कि अलग-अलग मंत्रालयों और विभागों की योजनाओं को लाभार्थियों के बीच पहुंचाने के लिए इस राशि को खर्च किया गया है. राठौर ने बताया कि इन योजनाओं के बारे में प्रचार और जागरूकता के लिए प्रिंट, इलेक्ट्रोनिक और आउटडोर मीडिया का सहारा लिया गया है.

पढ़ें- IS माड्यूल: पूरे भारत को उड़ाने की फिराक में थे आतंकी, NIA ने नहीं पकड़ा होता तो देश भर में आ जाती तबाही

राठौर ने लोकसभा में बताया कि प्रचार-प्रसार में सर्वाधिक खर्च 2017-18 के सत्र में किया गया है. इस दौरान कुल 1313.57 करोड़ रुपए खर्च किए गये. जिसमें से 636.09 करोड़ रुपए प्रिंट माध्यम, 468.93 करोड़ इलेक्ट्रॉनिक माध्यम, 208.55 करोड़ रुपए आउटडोर पब्लिसिटी पर खर्च किए गए हैं.

पढ़ें- मध्य प्रदेश: सरकार बनाने के 10 दिन के भीतर ही कांग्रेस में शुरू हो गई बगावत, कद्दावर नेता ने दिया इस्तीफा

उन्होंने बताया कि 2014-15 के सत्र में सरकार ने करीब 980 करोड़ (979.78 करोड़) रुपये खर्च किए. वहीं 2017-18 आते-आते इसमें करीब 33-35 फीसदी का इजाफा हुआ. इसके बाद यह रक़म बढ़कर करीब 1,314 करोड़ रुपये हो गई. 

First published: 28 December 2018, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी