Home » इंडिया » Narendra Modi’s BHIM app How to use it and all you need to know
 

प्रधानमंत्री ने लाॅन्च किया 'भीम' एेप, बिना स्मार्टफोन कैशलेस होने का जरिया

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 December 2016, 8:28 IST
(File Photo)

देश में डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुुक्रवार को पहले डिजिधन मेले में भीम ऐप को लाॅन्च किया. भीम ऐप का पूरा नाम 'भारत इंटरफेस फॉर मनी' है. यह UPI (यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस) बेस्ड पेमेंट सिस्टम पर काम करेगा. इसके जरिए लोग डिजिटल तरीके से पैसे भेज और रिसीव कर सकेंगे. इसमें यूजर्स को बैंक अकाउंट नंबर और आईएफएससी कोड जैसी लंबी डिटेल्स डालने की जरूरत नहीं होगी. 

एेप की खूबी 

अगर कोई भीम ऐप का इस्तेमाल करता है तो उसे ई-पेमेंट के लिए किसी दूसरे ऐप की जरूरत नहीं होगी. इस ऐप के जरिए हर तरह के ई-पेमेंट हो सकते हैं. इस ऐप के जरिए दुुकानदार को पैसे देने से लेकर जीवन बीमा, होम लोन, स्कूल फीस, मेट्रो कार्ड रिचार्ज आदि सभी छोटे-बड़े कामों के लिए पेमेंट कर सकते हैं.

एेप के लिए नहीं होगी इंटरनेट की जरूरत

भीम ऐप की सबसे बड़ी खूबी यह है कि इसके लिए मोबाइल में इंटरनेट की जरूरत नहीं है. यानी अगर आपके पास बेसिक मोबाइल फोन है तो भी आप इस ऐप की मदद से ई-पमेंट कर सकेंगे.

File photo

कैसे करेगा काम 

इससे पैसे भेजने के लिए आपको सिर्फ एक बार अपना बैंक अकाउंट नंबर रजिस्टर करना होगा और एक UPI पिनकोड जनरेट करना होगा. इसके बाद आपका मोबाइल नंबर ही पेमेंट एड्रेस होगा, हर बार अकाउंट नंबर डालने की जरूरत नहीं होगी. इंटरनेट नहीं होने पर फोन से USSD कोड *99# डायल करके भी इस ऐप को ऑपरेट किया जा सकता है. यह ऐप हिंदी और अंग्रेजी में उपलब्ध होगा. जल्दी ही क्षेत्रीय भाषाएं भी इसमें जुड़ेंगी. 

आपका अंगूठा होगा पासवर्ड 

भीम ऐप में आपका अंगूठा ही पासवर्ड का काम करेगा. यानी इस ऐप को यूज करने में पासवर्ड लीक होने की भी झंझट नहीं है. 

कैसे पड़ा भीम नाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बताया कि संविधान निर्माता बाबा साहेेब भीमराव अंबेडकर के विचारों से भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना हुई थी. इसलिए उन्हीं के नाम पर इस ऐप का नाम 'भीम' रखा गया है.

क्या-क्या कर सकते हैं इस ऐप से...

1. आप अपने बैंक अकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हैं. 

2. आप अपने फोन नंबर्स के साथ कस्टम पेमेंट एड्रेस को भी ऐड कर सकते हैं. 

3. क्यूआर (QR) कोड स्कैन करके भी आप किसी को पेमेंट भेज सकते हैं. इसके लिए आपको सिर्फ मर्चेंट का QR कोड स्कैन करना होगा. 

4. इसके जरिए 24 घंटे में कम से कम 10,000 रुपए और अधिकतम 20,000 रुपए ट्रांसफर कर सकते हैं. 

First published: 31 December 2016, 8:28 IST
 
अगली कहानी