Home » इंडिया » Narendra Modi visits revolutionary Chandrashekar Azad's village
 

पीएम मोदी ने किया आजाद को याद, '70 साल आजादी, याद करो कुर्बानी' कार्यक्रम शुरू

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2016, 16:16 IST

मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के अलीराजपुर जिले स्थित स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली भाबरा (आजाद नगर) जाकर आजाद को नमन किया. उन्होंने यहां झोतराड़ा गांव के पास एक जनसभा को संबोधित किया. पीएम ने कहा कि चंद्रशेखर आजाद की जन्मस्थली पर आना उनके लिए सौभाग्य की बात है.

इसके अलावा पीएम मोदी ने '70 साल आजादी, याद करो कुर्बानी' कार्यक्रम की शुरुआत की. इस कार्यक्रम के तहत मोदी कैबिनेट के 75 मंत्री पूरे देश में महत्वपूर्ण जगहों पर जाएंगे. स्वतंत्रता आंदोलन के महत्वपूर्ण कार्यक्रम और स्थल को याद किया जाएगा. राष्ट्रीय महापुरुषों के साथ क्षेत्रीय महापुरुषों को भी याद किया जाएगा, जो स्वतंत्रता आंदोलन के हीरो रहे हैं. इसके अलावा पार्टी 15 अगस्त से 22 अगस्त तक तिरंगा यात्रा निकालेगी.

गाय, दलित के बाद कश्मीर पर तोड़ी चुप्पी

पीएम मोदी ने कहा है कि कश्मीर को हमें दुनिया का स्वर्ग बनाना है. कश्मीर की जनता शांति चाहती है, लेकिन कुछ लोग कश्मीर को नुकसान पहुंचा रहे हैं. उन्होंने कहा है कि वह कश्मीर के युवाओं को रोजगार देना चाहते हैं. लेकिन, आज कुछ लोगों ने कश्मीर के युवाओं को पत्थर पकड़ा दिए हैं.

उन्होंने कहा कि मुट्ठी भर लोग ग्रेट लैंड ऑफ कश्मीर को नुकसान पहुंचा रहे हैं. पीएम ने कहा, "कश्मीर की बेहतरी के लिए जो कुछ भी चाहते हैं, केंद्र सरकार मदद करेगी. कश्मीर के लिए लोकतंत्र और वार्ता ही रास्ता है. भारत जिस आजादी को महसूस करता है, उसे कश्मीर भी महसूस कर सकता है. कुछ लोग भटके हुए हैं, जिन हाथों में किताबें और लैपटॉप होने चाहिए थे, उन हाथों में पत्थर थमा दिए गए हैं.”

आजाद की जन्मस्थली पर जाने वाले पहले पीएम

मध्य प्रदेश सरकार के मंत्री विश्वास सारंग ने कार्यक्रम के दौरान कहा कि आजाद की जन्मस्थली का दौरा करने वाले मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं.

प्रदेश की मौजूदा बीजेपी सरकार ने अमर शहीद के सम्मान में भाबरा का नाम बदलकर ‘आजाद नगर’ कर दिया था.

जिस मकान में 23 जुलाई 1906 को आजाद का जन्म हुआ था, उसे स्मारक के रूप में विकसित कर ‘आजाद स्मृति मंदिर’ का नाम दिया गया है. इस स्मारक में छोटा सा संग्रहालय भी है, जिसमें आजाद के जीवन की चित्रमय झलकियां पेश की गई हैं.

First published: 9 August 2016, 16:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी