Home » इंडिया » Naresh Agrawal's speech on Farewell to retiring Rajya Sabha members
 

नरेश अग्रवाल ने PM मोदी से मांगी माफी, कांग्रेस बोली- ऐसे सूरज जो इधर डूबे उधर निकले

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2018, 13:30 IST

राज्यसभा में सेवानिवृत्त हो रहे सांसदों का विदाई समारोह चल रहा है. 40 सांसदों के विदाई के मौके पर पीएम मोदी ने राज्यसभा में सांसदों को उत्तम सेवाओं और योगदान के लिए शुभकामनाएं दी. पीएम मोदी ने कहा कि यह सदन उन वरिष्ठ महानुभावों का है, जिनका अनुभव सदन को अच्छा बनाता है.

पीएम मोदी ने कहा कि वरिष्ठ सांसदों का अपना एक महत्व होता है और देश के लिए हर सांसद का योगदान है. उन्होंने कहा सभी ने अपनी भूमिका निभाई है. उन्होंने कहा कि आप सभी एक महत्वपूर्ण निर्णय प्रक्रिया से वंचित रह गये, इसका मलाल जरूर रहेगा. मगर अच्छा होता कि हम सारी चीजें आपकी उपस्थिति में ही कर पाते.

इसके अलावा पीएम ने कहा कि आपके लिए इस सदन और प्रधानमंत्री का दरवाजा हमेशा खुला है. आप जहां भी रहेंगे आप अपने विचारों से योगदान देंगे.

राज्यसभा से रिटायर हो रहे सांसदों ने विदाई भाषण किया. इस मौके पर राज्यसभा से ही रिटायर हो रहे सपा सांसद (अब भाजपा में) नरेश अग्रवाल का विदाई भाषण सबसे ज्यादा सुर्खियों में रहा. नरेश अग्रवाल ने अपने पुराने बयानों को लेकर सदन से माफी मांगी.

नरेश अग्रवाल ने कुलभूषण जाधव पर कहा था, "किस देश की क्या नीति है वो देश जानता है. अगर उन्होंने कुलभूषण जाधव को अपने देश में आतंकवादी माना है तो वो उस हिसाब से ही व्यवहार करेंगे. हमारे देश में भी आतंकवादियों से ऐसे ही व्यवहार करना चाहिए. कड़ा व्यवहार करना चाहिए. मैं नहीं जानता कि सिर्फ़ कुलभूषण जाधव की ही बात क्यों की जा रही है, पाकिस्तान की जेलों में सैकड़ों भारतीय बंद है, सबकी बात क्यों नहीं की जाती है?"

इसके अलावा उन्होंने पीएम मोदी पर दिए अपने बयानों को लेकर भी माफी मांगी. उन्होंने कहा कि मीडिया ने मेरे बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश किया था. उन्होंने कहा कि इस तरह की चीजों को लेकर मीडिया पर प्रतिबंध लगना चाहिए.

नरेश अग्रवाल ने कहा कि पीएम मोदी और अमित शाह का धन्यवाद देना चाहूंगा क्योंकि कई बार मैंने उनके लिए कटु शब्द कहे हैं बावजूद इसके उन्होंने मुझे स्वीकार किया है. अग्रवाल ने कहा कि मेरा पूरा जीवन संघर्ष में बीता है मैंने कभी भी हार नहीं मानी है. नरेश अग्रवाल ने कहा कि वह थोड़ा कटु बोलते हैं इसलिए सभी सांसदों से माफी भी चाहता हूं.

पढ़ें- डेटा विवाद: भारत में 10 राज्यों में सक्रिय है विवादित ब्रिटिश कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका

वहीं राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद ने नरेश अग्रवाल पर कहा, "नरेश अग्रवाल जी एक ऐसे सूरज हैं, जो इधर डूबे उधर निकले, इधर निकले उधर डूबे. मुझे यकीन है जिस पार्टी में वो गये हैं वो उनकी क्षमता का पूरा उपयोग करेगी." उन्होंने कहा कि भाजपा में वह भाषा की मर्यादा को बना कर रखेंगे ऐसी आशा है. साथ ही उन्होंने जेटली, जया बच्चन सहित आने वाले नये सांसदों को भी बधाई दी.

First published: 28 March 2018, 13:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी