Home » इंडिया » narsingh yadav fail in second dope test
 

नरसिंह यादव दूसरे टेस्ट में भी फेल, दर्ज कराई साजिश की एफआईआर

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2016, 16:44 IST
(कैच)

राष्ट्रीय डोपिंग निरोधक एजेंसी ( नाडा) ने आज पहलवान नरसिंह यादव को दूसरे यानी 'बी' डोप टेस्ट में भी फेल बताया है.

नाडा के मुताबिक उनकी जांच में नरसिंह यादव के ‘ए’ और ‘बी’ दोनों नमूनों में प्रतिबंधित मेथेंडाइनोन नाम का स्टेरॉयड मिला है.

वहीं नरसिंह यादव ने इस मामले में साजिश का आरोप लगाते हुए सोनीपत के राई थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है.

नरसिंह यादव ने अपनी शिकायत में नाबालिग पहलवान जितेश का नाम लिया है. उन्होंने आरोप लगाया है कि जितेश ने उनके सलाद में कोई सूखा पदार्थ छिड़का था, जिसे उन्होंने नमक समझा. सलाद के साथ-साथ नरसिंह ने अपने पानी में भी कुछ मिलाए जाने की आशंका जताई है.

बताया जा रहा है कि जितेश भी नरसिंह के साथ 76 किलोग्राम वर्ग में कुश्ती लड़ता है और भारतीय खेल प्राधिकरण के हॉस्टल में नरसिंह यादव के साथ रहता है.

जितेश के द्वारा नरसिंह के खाने में कुछ मिलाए जाने की पुष्टि खाना बनाने वाले रसोइयों ने भी की है. रसोइयों के मुताबिक जितेश ने ही नरसिंह यादव के खाने में प्रतिबंधित दवा मिलाई थी.

नरसिंह यादव ने पुलिस में एफआईआर दर्ज कराने के बाद आज सोनीपत कैंप को छोड़ दिया और वो दिल्ली चले आए हैं.

दूसरे डोप टेस्ट में भी फेल हो जाने के बाद रियो ओलंपिक में जाने के लिए पहलवान नरसिंह यादव की उम्मीद लगभग खत्म हो गई है. लेकिन इस बात का फैसला आज शाम को होगा कि वो रियो जाएंगे या नहीं.

नाडा आज शाम  नरसिंह डोपिंग विवाद पर सुनवाई करने वाली है. इससे पहले लोकसभा में भी नरसिंह यादव का मुद्दा उठाया गया.

कांग्रेस सांसद रंजीत रंजन ने नरसिंह यादव डोप टेस्ट विवाद को सदन में उठाते हुए मामले को बेहद गंभीर करते देते हुए इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की है.

इस मुद्दे को बेहद गंभीर बताते हुए रंजीत ने कहा, ‘एक खिलाड़ी इतनी मेहनत के बाद यहां तक पहुंचता है कि वो देश के लिए ओलंपिक में क्वालीफाइ करे लेकिन ओलंपिक में जाने से ठीक पहले इस तरह के मामले से खिलाड़ियों का मनोबल टूटता है और देश की साख पर भी बट्टा लगता है.’

कांग्रेस सांसद ने इस मामले को उठाते हुए इसे खेलों में भ्रष्टाचार भी बताया और इस मामले में जो भी आरोपी है उसपर सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने भी कहा है कि नरसिंह यादव को ‘फंसाया जा रहा है.’ उन्होंने इस मामले में केंद्रीय खेलमंत्री विजय गोयल से हस्तक्षेप करने की मांग की है.

अगले महीने से ब्राजील के रियो में होने वाले ओलंपिक से पहले ही भारत को उस समय बड़ा झटका लगा, जब नाडा ने यादव को डोप टेस्ट में फेल बताया. नाडा आज शाम 4 बजे नरसिंह यादव मामले की सुनवाई करेगा.

पहलवान सुशील कुमार ने भी नरसिंह विवाद में पहली बार खुलकर बात करते हुए कहा कि वो नरसिंह अपना छोटा भाई मानते हैं और उनपर लग रहे तमाम साज़िश के आरोप पूरी तरह से गलत हैं.

गौरतलब है कि 74 किलोग्राम वर्ग में नरसिंह यादव ने क्वालीफाई किया था. जिसके बाद सुशील कुमार का रियो ओलंपिक में जाना खटाई में पड़ गया. सुशील ने इस मामले को लेकर खेल मंत्रालय से लेकर डब्ल्यूएफआई और कोर्ट तक गुहार लगाई थी.

सुशील कुमार चाहते थे कि नरसिंह से उनका ट्रायल्स मुकाबला कराया जाए और जो इस मुकाबले को जीते उसे रियो ओलंपिक्स में भेजा जाए. अंत में सुशील कुमार इस मामले को लेकर दिल्ली हाईकोर्ट भी गए, लेकिन कोर्ट ने उनकी याचिका को खारिज कर दिया था.

First published: 27 July 2016, 16:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी