Home » इंडिया » National anthem a 'must' in madrasas: Allahabad High court on Plea challenging Adityanath govt order.
 

हाईकोर्ट ने चलाया हथौड़ाः मदरसों में गाना होगा राष्ट्रगान

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 October 2017, 18:40 IST
(file photo)

मदरसों में राष्ट्रगान को लेकर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बुधवार को बड़ा फैसला सुनाया. कोर्ट ने मदरसों में राष्ट्रगान गाने पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है. इलाहाबाद कोर्ट ने मदरसों में राष्ट्रगान गाने के योगी सरकार के फैसले के खिलाफ दायर याचिका को खारिज कर दिया है.

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि राष्ट्रगान और राष्ट्रध्वज का सम्मान करना सभी नागरिकों का सवैधानिक कर्त्तव्य है. जाति, धर्म और भाषा के आधार पर इसमें किसी तरह का भेदभाव नहीं किया जा सकता है. 

इलाहाबाद हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस डीबी भोसले और जस्टिस यशवंत वर्मा की खंड पीठ ने आदेश दिया कि मदरसों को राष्ट्रगान गाने से छूट नहीं है. याचिकाकर्ता अलाउल मुस्तफा ने मदरसों को राष्ट्रगान गाने से छूट देने की मांग को लेकर याचिका दाखिल की थी. इसमें 6 सितंबर 2017 के योगी सरकार के आदेश को चुनौती दी गई थी.

गौरतलब है कि के यूपी के सभी मदरसों को उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड की तरफ से एक आदेश जारी किया गया था. आदेश के मुताबिक सभी मदरसों को 15 अगस्त के दिन राष्ट्र ध्वज फहराने और राष्ट्रगान गाने का आदेश दिया गया था. इसके साथ ही पूरे समारोह की वीडियोग्राफी का भी आदेश दिया गया था.

First published: 4 October 2017, 18:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी