Home » इंडिया » national conference leader resign the party
 

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता ने पार्टी छोड़ी, अब उठाएंगे अलगाववादियों का झंडा

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:47 IST
(ट्वीटर)

जम्मू-कश्मीर में उमर अब्दुल्ला की पार्टी नेशनल कॉफ्रेंस के नेता इफ्तिखार मिसगर ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. पार्टी छोड़ने के बाद मिसगर ने कहा कि अब उनका मुख्‍य धारा की राजनीति से कोई लेना-देना नहीं रह गया है. अब मिसगर ‘अलगाववादी आंदाेलन’ से जुड़ेंगे और उनके लिए काम करेंगे.

मिसगर ने इस्तीफा तब दिया जब हिंसक भीड़ ने उनके घर पर हमला करने की कोशिश की. मिसगर ने पार्टी छोड़ने के बाद जनता से भारत समर्थक रहने के लिए मांफी मांगी है. हालांकि नेशनल कॉफ्रेंस ने मिसगर के इस्तीफे के बारे में कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं दी है.

खबरों के मुताबिक दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग शहर के चीनी चौक इलाके में रहने वाले मिसगर को हिंसक भीड़ ने रोक लिया और उसके बाद भीड़ उन्हें लेकर एक मस्जिद में गई.

जहां उन्हें 'आजादी समर्थित' नारे लगाने और अलगाववादियों के धड़े से जुड़ने के लिए राजनीति छोड़ने के लिए कहा गया. उसके बाद जब उन्होंने पार्टी छोड़ने की घोषणा की, तभी भीड़ ने उन्हें छोड़ा.

मिसगर ने जून में विधानसभा उपचुनाव में मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती के खिलाफ अनंतनाग सीट से दावेदारी पेश की थी, लेकिन उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा था.

मिसगर के इस्तीफे के बाद हुर्रियत नेता सैयद अली शाह गिलानी ने घाटी के सभी भारत समर्थित राजनीतिज्ञों को जम्‍मू-कश्‍मीर का दुश्‍मन बताया है.

गिलानी ने कहा, "इन धोखेबाजों में इस मुल्‍क का एक लंबा आदमी शामिल है, इस इलाके में 1947 के बाद से जितना भी खून-खराबा हुआ है, वह उसी व्‍यक्ति की वजह से हुआ है जिसने कश्‍मीर के सीधे-सादे लोगों को धोखा दिया है.”

वहीं जम्मू-कश्मीर की की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रविवार को कहा, "जंग से कुछ भी हासिल नहीं होता. बातचीत ही समस्‍या का एकमात्र हल है. जो लोग हिंसा के लिए बच्चों का इस्तेमाल कर रहे हैं, वह जरूर बताएं कि उन्हें कौन सा कश्मीर चाहिए? जहां मोटरसाइकिलों पर दंगा करते नौजवान स्कूटी पर चलने वाली लड़कियों को जिंदा जलाने की धमकी देते हैं ? या फिर दस साल का बच्चा 70 साल के बुजुर्ग को पीटता है."

First published: 1 August 2016, 11:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी