Home » इंडिया » Catch Hindi news, Mumbai attack, David Headly, Apex Court,Odd even
 

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने उठाये कुछ सवाल और तीन अन्य खबरें

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:46 IST

NGT

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) जो की भारत में पर्यावरण संरक्षण के मामलों की निगरानी करने वाली प्रमुख संस्था है, ने अब दिल्ली सरकार के सम-विषम संख्या वाहन नीति पर सवाल उठा दिया है.

ट्रिब्यूनल ने कहा है की इस नीति से मनचाहे परिणाम प्राप्त नहीं हो सकते हैं. उसने बताया की, "सम-विषम संख्या नीति के चलते लोग दो कार खरीद सकते हैं "  

दिल्ली में आम आदमी पार्टी सरकार ने सम/विषम संख्या नीति को एक से 15 जनवरी तक प्रायोगिक आधार पर लागू करने की घोषणा की है. 

#COP21 का अंतिम ड्राफ्ट मसौदा अब 12 दिसंबर को आएगा

ताजा रिपोर्ट के अनुसार, वैश्विक जलवायु समझौते पर कोई भी निर्णय शुक्रवार तक नहीं लिया जा सका है. यह उम्मीद की जा रही है की फ्रांस के विदेश मंत्री लॉरेंट फेबियस फाइनल एग्रीमेंट की घोषणा 11 दिसंबर को करेंगे.


Delhi odd even

सुप्रीम कोर्ट प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए डीजल कारों को प्रतिबंधित करने पर विचार कर रहा है

सुप्रीम कोर्ट ने नौ दिसंबर को दिल्ली में बढ़ रहे वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए तत्काल उपाय करने की बात कही है. इस समस्या से निपटने के लिए कोर्ट विभिन्न विकल्पों पर विचार विमर्श कर रहा है.

सुप्रीम कोर्ट दिल्ली की सड़कों पर डीजल कारों को प्रतिबंधित करने और साथ ही राजधानी में ट्रकों के प्रवेश पर रोक लगाने पर विचार कर रही है.

चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर और न्यायमूर्ति आर बनुमाथि की अध्यक्षता वाली बेंच ने इस समस्या को हल करने के लिए एक दूसरे के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए केंद्र और राज्य सरकार से बात की है.

Mumbai Attack

26/11 मुंबई हमला: अदालत से माफ़ी के बाद डेविड हेडली बना सरकारी गवाह

पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी आतंकवादी डेविड हेडली ने  26/11 के मुंबई आतंकी हमलों के मामले में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मुंबई की अदालत के समक्ष गवाही दी है. उसने कहा है की अगर उसे माफ़ किया जाता है तो वह सरकार का साथ देने के लिए तैयार है. वह माफी के एवज में सरकारी गवाह बनना चाहता है.

डेविड हेडली पर मुंबई 26/11 के आतंकी हमले से संबंधित 11 अपराधों के लिए आरोप लगाया गया है. डेविड हेडली आज 26/11 के आतंकी हमले के मामले में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से मुंबई की विशेष अदालत के सामने पेश हुआ.

First published: 11 December 2015, 10:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी