Home » इंडिया » NCP chief Sharad Pawar says someone plans to send me to jail I welcome it after his name in money laundering case
 

शरद पवार बोले- मुझे जेल भेजा गया तो मैं इसका स्वागत करूंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 September 2019, 10:11 IST

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने महाराष्ट्र कार्पोरेशन बैंक से जुड़े घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है. ईडी ने इस मामले में एफआईआर दर्ज की है. जिसमें एनसीपी प्रमुख शरद पवार, उनके भतीजे और पूर्व मुख्यमंत्री अजीत पवार साथ ही महाराष्ट्र स्टेट कार्पोरेशन बैंक से जुड़े 70 लोगों को आरोपी बनाया है. यह 25 हजार करोड़ रुपये का घोटाला है. इस मामले की शुरुआत में मुंबई पुलिस ने एक एफआईआर दर्ज की थी.

अपने खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज होने के बाद एनसीपी प्रमुख ने कहा कि, “अगर मुझे जेल जाना पड़े तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है. मुझे खुशी होगी क्योंकि मुझे ये अनुभव कभी नहीं हुआ. अगर किसी ने मुझे जेल भेजने की योजना बनाई है तो मैं इसका स्वागत करता हूं.”

बता दें कि इस घोटाले में 2007 से 2011 के बीच आरोपियों की मिलीभगत से बैंक को करोड़ों रुपये का नुकसान होने का आरोप है. जिसके आरोपियों में 34 जिलों के विभिन्न बैंक अधिकारी शामिल हैं. यह नुकसान चीनी मिलों तथा कताई मिलों को ऋण देने और उनकी वसूली में अनियमितता के चलते हुआ.

प्रवर्तन निदेशालय के मुताबिक मुंबई हाईकोर्ट ने इस मामले में पहले एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिए थे. इसके बाद पहले मुंबई पुलिस ने मामला दर्ज किया. इसके बाद अब ईडी ने यह केस दर्ज किया है. ईडी के मुताबिक इस घोटाले में कार्पोरेटिव बैंकों के कई मैनेजर भी शामिल रहे हैं.

चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप लगाने वाली लड़की को SIT ने किया गिरफ्तार

First published: 25 September 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी