Home » इंडिया » NCW sent notice to Rahul Gandhi over his remark, 'got a woman to defend him' on PM Modi
 

राहुल गांधी ने कहा था- 'मोदी जी मर्द बनिए, महिला के पीछे मत छुपिए', महिला आयोग ने भेजा नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 January 2019, 13:10 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मुश्किलों में फंसते नजर आ रहे हैं. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण पर विवादित टिप्पणी करने पर उनके खिलाफ राष्ट्रीय महिला आयोग ने स्वत: संज्ञान लेते हुए कारण बताओ नोटिस जारी किया है. राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा राहुल गांधी की टिप्पणी पर एक ट्वीट कर कड़ी निंदा की है.

रेखा शर्मा ने ट्वीट कर लिखा, "राहुल गांधी का बयान- 'एक महिला से कहा मेरी रक्षा कीजिए?' महिला विरोधी है. क्या वह सोचते हैं कि एक महिला कमजोर है? राहुल इतने बड़े लोकतांत्रिक देश की रक्षामंत्री को कमजोर कह रहे हैं." रेखा शर्मा ने कहा, "उनकी टिप्पणी महिला-विरोधी, आक्रामक, अनैतिक तथा सामान्य रूप से महिलाओं के मान एवं प्रतिष्ठा के विरुद्ध असम्मान ज़ाहिर करती है." 

बता दें कि राहुल गांधी ने एक रैली के दौरान कहा था, "प्रधानमंत्री ने संसद में अपने बचाव में एक महिला का सहारा लिया ,क्योंकि वह खुद की रक्षा नहीं कर सकते थे. 56 इंच का सीना वाले चौकीदार भाग खड़े हुए और एक महिला सीतारमण जी से कहा मेरी रक्षा करें. मैं खुद की रक्षा करने में समर्थ नहीं हूं. ढाई घंटे तक महिला उनकी रक्षा नहीं कर सकी. मैंने तो सीधा सा सवाल किया था, जिसका हां या ना में उत्तर था, लेकिन वह उत्तर नहीं दें सकीं."

राहुल गांधी के इस बयान के बाद पीएम मोदी ने आगरा रैली में जमकर हमला बोला था. पीएम मोदी ने कांग्रेस नेताओं पर देश की महिलाओं का अपमान करने का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा कि लोकसभा में राफेल सौदे पर तथ्यों के साथ पहुंचीं रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने विपक्ष की तथ्यात्मक ढंग से धज्जियां उड़ा दीं. वहीं राहुल गांधी महिला रक्षा मंत्री का अपमान करने पर तुले हैं.

पढ़ें- अयोध्या विवाद: सुनवाई से पीछे हटे जस्टिस ललित, 29 जनवरी को बैठेगी नई बेंच, तब होगी सुनवाई

पीएम मोदी ने कहा थी कि यह एक महिला का नहीं बल्कि पूरे भारत की नारी शक्ति का अपमान है. उन्होंने कहा था कि इसके लिए इन गैर-जिम्मेदार नेताओं को कीमत चुकानी होगी. यह गर्व का विषय है कि पहली बार एक महिला देश की रक्षा मंत्री बनी है.

First published: 10 January 2019, 13:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी