Home » इंडिया » ND Tiwari’s son Rohit Shekhar Tiwari died in suspicious circumstances at home in Delhi
 

एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर के शव का आज होगा पोस्टमार्टम, कल हुई थी संदिग्ध हालत में मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 April 2019, 8:11 IST
(File Photo)

यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रहे एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की मंगलवार शाम संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. वह 40 साल के थे. उनके शव का आज पोस्टमार्टम किया जाएगा. रोहित की मौत की वजह हार्ट अटैक और ब्रेनहेमरेज मानी जार रही हैं. बता दें कि मंगलवार शाम करीब पौने पांच बजे उनकी तबियत खराब होने के बाद दिल्ली के साकेत स्थित मैक्स हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने जांच के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया.

डॉक्टर्स के मुताबिक रोहित की मौत अस्पताल लाने से पहले ही हो चुकी थी. आज उनके शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा. बता दें कि खुद को पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी का बेटा साबित करने के लिए रोहित शेखर ने लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी थी, उसके बाद दिवंगत एनडी तिवारी ने उन्हें अपना बेटा स्वीकार किया था.

डिफेंस कॉलोनी थाना पुलिस के मुताबिक, मंगलवार शाम घर का नौकर जब उनके कमरे में खाना देने पहुंचा , तब रोहित बिस्तर पर लेटे हुए थे और उनके मुंह से खून निकल रहा था. उनके तकिए पर भी खून जमा हुआ था. दक्षिणी दिल्ली पुलिस के डीसीपी विजय कुमार के मुताबिक रोहित के शरीर पर किसी भी तरह की चोट के निशान नहीं पाए गए हैं. आज एम्स में मेडिकल बोर्ड की निगरानी में रोहित तिवारी के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा. उसके बाद ही उनकी मौत की असल वजह पता चलेगी.

बता दें कि रोहित शेखर ने साल 2008 में खुद को एनडी तिवारी का बेटा होने का कोर्ट में दावा किया था. उसके बाद तिवारी ने इस मामले को खारिज करने के लिए कोर्ट में अपील की थी. कोर्ट में लंबी सुनवाई के बाद एनडी तिवारी और रोहित के डीएनए जांच के आदेश दिए थे. जांच में रोहित, एनडी तिवारी के जैविक बेटा साबित हुए. उसके बाद एनडी तिवारी ने भी उन्हें अपना बेटा स्वीकार किया और बाद में रोहित की मां उज्ज्जवला से शादी भी की. बता दें कि एनडी तिवारी निधन पिछली साल 18 अक्टूबर को हुआ था. वहीं रोहित की शादी भी पिछले ही साल 11 मई को अपूर्वा शुक्ला के साथ हुई थी.

BJP की महिला नेत्री की अपील- जया प्रदा के सम्मान में सभी महिलाएं आजम खान को भेजें अंडरवियर

First published: 17 April 2019, 8:11 IST
 
अगली कहानी