Home » इंडिया » New rule of breakfast for government meetings health ministry circular
 

सरकारी कर्मचारी अब चाय की चुस्कियों के साथ नहीं उठा पाएंगे बिस्कुट का लुत्फ, इन चीजों पर भी लगी पाबंदी

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2019, 10:10 IST

जब भी आप किसी सरकारी दफ्तर जाते होंगे, तो वहां देखते होंगे कि अधिकारी चाय की चुस्कियों के साथ बिस्कुट का मजा ले रहे हैं. लेकिन अब आगे से आप ऐसा नहीं देख पाएंगे.

दरअसल, सरकार ने इन अधिकारियों की सेहत का ख्याल रखते हुए चाय के साथ बिस्कुट की जगह देशी नाश्ता लाई और चना को दे दी है. सरकार द्वारा फैसला लिया गया है कि अब सरकारी बैठकों में बिस्किट की जगह लाई चना या फिर भुना चना परोसना जाएगा. इतना ही नहीं अब सरकारी दफ्तरों की कैंटीन में भी सेहत को नुकसान देने वाली चीजें नहीं बिकेंगी.

यह सर्कुलर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की पहल पर जारी किया गया है. जारी सर्कुलर में कहा गया है कि प्लास्टिक की बोतलों में भी पानी पीना सेहत के लिए नुकसानदायी है, इलसिए जल्द ही इस पर भी पाबंदी लगेगी. इस बारे में एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "प्लास्टिक कचरे से कितना प्रदूषण हो रहा है, इस बात से सब वाकिफ हैं. इसलिए इसकी जितनी जल्द विदाई की जाए, बेहतर है."

परोसे जा सकते हैं ये स्नैक्स

जानकारी अनुसार, सरकारी दफ्तरों में अब लाई चना, खजूर, भुना चना के साथ-साथ बादाम और अखरोट इत्यादी चीजें परोसी जा सकती हैं.

स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने कहा, "फिलहाल यह आदेश स्वास्थ्य मंत्रालय के विभागों और संस्थानों में लागू होगा." सरकार द्वारा ये कदम स्वास्थ्यकर और डॉक्टर की पहल पर उठाया गया है, इसलिए अन्य मंत्रालयों एवं विभागों से भी इसे जल्द से जल्द लागू करने का अनुरोध किया जाएगा.

यूनिवर्सिटी को लगा तगड़ा झटका, दो दिन में तीन लोग पी गए 1.50 लाख की चाय

First published: 29 June 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी