Home » इंडिया » NGT orders a principal committee to be formed to tackle the menace of chikungunya/dengue in Delhi
 

'दिल्ली में हर कोई बीमार हो रहा है, हमें फर्जी रजिस्टर मत दिखाइए'

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 September 2016, 12:41 IST
(पीटीआई)

दिल्ली में चिकनगुनिया और डेंगू के बढ़ते मामलों पर नेशनल ग्रीन ट्राइब्यूनल (राष्ट्रीय हरित अधिकरण) ने नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) समेत सभी नगर निगमों को कड़ी फटकार लगाई है.

एनजीटी ने एनडीएमसी से सवाल पूछा, "दिल्ली में चिकनगुनिया और डेंगू से निबटने के लिए आप क्या कर रहे हैं?" इस पर एनडीएमसी ने जवाब दिया कि घरों में दवा का छिड़काव और मच्छरों के प्रजनन की जांच जारी है.

इस पर एनजीटी ने कहा, "आप दो महीने से क्या कर रहे थे? ऐसा लगता है कि आपके पास कोई एक्शन प्लान नहीं है. दिल्ली में हर कोई बीमार हो रहा है. हम आंखें मूंदकर नहीं रह सकते."

क्यों नहीं बनाते एक्शन प्लान?

राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने सवालिया लहजे में पूछा, "सभी एमसीडी (नगर निगम), डीडीए, दिल्ली सरकार और एनडीएमसी इन बीमारियों के मुद्दे पर एक साथ क्यों नहीं बैठते और एक एक्शन प्लान बनाते हैं."

इसके साथ ही एनजीटी ने संबंधित अधिकारियों को अगले बुधवार को डेंगू और चिकनगुनिया को लेकर उठाए गए प्रशासनिक कदमों की जानकारी के साथ पेश होने को कहा है.

डेंगू-चिकनगुनिया पर कमेटी बनाने का आदेश

एनजीटी ने दिल्ली में डेंगू और चिकनगुनिया के हालात पर गहरी नाराजगी जताते हुए कहा, "जमीनी हकीकत भयावह है. हमें फर्जी रजिस्टर मत दिखाइए." 

एनजीटी ने बीमारी पर काबू पाने में कोई मजबूत कदम नहीं उठाने को लेकर सभी नगर निगमोें को कड़ी फटकार लगाई. साथ ही एनजीटी ने डेंगू और चिकनगुनिया के खतरे से निपटने के लिए एक मुख्य कमेटी बनाने का आदेश दिया है.

दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव, एमसीडी के कमिश्नर, डीडीए के उपाध्यक्ष, एनडीएमसी के प्रतिनिधि और महानिदेशक चिकित्सा सेवाएं (दिल्ली) इस कमेटी का हिस्सा होंगे.

15 दिन में मांगी रिपोर्ट

इसके अलावा एनजीटी ने जिला स्तर पर डेंगू और चिकनगुनिया से निपटने के लिए एक कमेटी बनाने का आदेश दिया है, जो जमीनी स्तर पर बीमारी से रोकथाम पर नजर रखेगी. इसकी अध्यक्षता एमसीडी जोन के डीसी करेंगे.

एनजीटी ने मुख्य कमेटी (दिल्ली में डेंगू और चिकगुनिया के मामलों पर) को 15 दिन के अंदर रिपोर्ट सौंपने के निर्देश दिए हैं.

First published: 21 September 2016, 12:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी