Home » इंडिया » nia files chargesheet against 12 people including hafiz saeed and syed salahuddin in kashmir terror funding
 

टेरर फंडिंग केस: NIA की चार्जशीट में पाक आतंकी हाफिज सईद और सलाउद्दीन का भी नाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 January 2018, 13:44 IST

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने जम्मू कश्मीर में आतंकियों को धन मुहैया कराने के मामले में 12 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. इन लोगों में लश्कर-ए-तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद और हिजबुल मुजाहिद्दीन प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन के नाम भी शामिल हैं. मामले में आरोपपत्र दायर करने के लिए जांच के दौरान बड़ी मात्रा में सामग्री और तकनीकी साक्ष्य एकत्रित किए गए थे.

मामला 2011 में उस वक्‍त का है, जब कश्‍मीर में आतंकी गतिविधियों के लिए विदेशी धन को पहुंचाया गया था. इसके तहत पाकिस्‍तान से हवाला के माध्‍यम से दिल्‍ली के जरिये जम्‍मू-कश्‍मीर में पैसे भेजे गए थे. सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक आतंकी और अलगाववादी गतिविधियों के लिए कश्‍मीर में ये पैसे भेजे गए थे.

 

इस मामले में एनआईए ने कट्टरपंथी अलगाववादी सैयद अली शाह गिलानी के दामाद अल्ताफ अहमद शाह उर्फ अल्ताफ फंटूश, मीरवाइज उमर फारूक के नेतृत्व वाले हुर्रियत कांफ्रेंस के नरमपंथी धड़े के प्रवक्ता शाहिद उल इस्लाम, हुर्रियत के गिलानी नीत धड़े के प्रवक्ता अयाज अकबर और अलगाववादियों नईम खान, बशीर भट उर्फ पीर सैफुल्लाह और राजा मेहराजुद्दीन कलावल को गिरफ्तार किया था.

एनआईए ने चर्चित कारोबारी जहूर अहमद वताली को भी गिरफ्तार किया था. दरअसल, हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकवादी बुरहान वानी के 2016 में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे जाने पर हिंसा में हिंसक झड़पों के बाद यह मामला दर्ज किया गया था.

एनआईए ने जो चार्जशीट दाखिल की है उसमें पाक आधारित लश्कर ए तैयबा के प्रमुख हाफिज सईद का नाम प्राथमिकी में आरोपी के रूप में दर्ज किया गया है. इसमें हुर्रियत कांफ्रेंस के धड़ों, हिज्बुल मुजाहिदीन और दुख्तारन ए मिलात के नाम भी शामिल हैं.

इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों की छह महीने की पुलिस और न्यायिक हिरासत आज खत्म हो रही है. आतंक रोधी कानून 'गैरकानूनी गतिविधि (गतिविधि) अधिनियम के तहत अभियोजन एजेंसी को छह महीने के भीतर आरोपपत्र दायर करना होता है. ऐसा करने में नाकाम रहने पर आरोपी जमानत के योग्य हो जाते हैं.

First published: 18 January 2018, 13:44 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी