Home » इंडिया » NIA: Zakir naik's NGO gives scholarship for IS terorrist
 

NIA: जाकिर नाइक के NGO ने आईएस आतंकी को दी थी स्कॉलरशिप

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 November 2016, 11:55 IST
(एजेंसी)

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने इस्लाम के विवादित प्रचारक जाकिर नाइक के मामले में एक बड़ा खुलासा किया है. एनआईए के मुताबिक नाइक के एनजीओ इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आईआरएफ) ने भारत में आईएस आतंकी अबू अनस को बतौर स्कॉलरशिप 80 हजार रुपये दिए थे.

बताया जा रहा है कि एनआईए की जांच में जाकिर नाइक के एनजीओ और आतंकी संगठन आईएस के बीच संबंधों का भी खुलासा हुआ है.

अंग्रेजी अखबार 'टाइम्स ऑफ इंडिया' ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि अनस को फंड ऐसे समय में दिया गया, जब वह आईएस में शामिल होने के लिए सीरिया जाने की तैयारी कर रहा था.

अबू अनस ने जाकिर के एनजीओ की वेबसाइट पर स्कॉलरशिप के लिए अप्लाई किया था. एनजीओ ने अनस को मुंबई इंटरव्यू के लिए भी बुलाया था. गौरतलब है कि सुरक्षा एजेंसियों ने अबू अनस को इस साल जनवरी में राजस्थान से गिरफ्तार किया था.

एनआईए के इस खुलासे के बाद अब सरकार जाकिर नाइक के खिलाफ 'आतंकवाद विरोधी कानून' के तहत भी जांच कर सकेगी. जाकिर के एनजीओ पर हाल ही गृह मंत्रालय ने प्रतिबंध लगाया है.

अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक एनआईए के सूत्रों का कहना है कि जाकिर नाइक के लोगों ने जान-बूझकर अनस को फंड देने के लिए यह स्कॉलरशिप दी. एनआईए को शक है कि अनस की गतिविधियों से जाकिर नाइक का एनजीओ आईआरएफ वाकिफ था.

जाकिर नाइक की संस्था ने अनस को स्कॉलरशिप का पैसा उसके बैंक खाते में ट्रांसफर किया. अनस को जिस बैंक अकाउंट में पैसा भेजा गया, वो राजस्थान के टोंक जिले में है.

First published: 23 November 2016, 11:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी