Home » इंडिया » Nirbhaya Gang Rape Case: all four convicts hanged in Tihar Jail after SC dismisses plea for stay on hanging
 

निर्भया के गुनहगारों का The End, तिहाड़ जेल में फांसी पर लटगाए गए चारों दोषी

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 March 2020, 5:31 IST

Nirbhaya Gang Rape Case: दिल्ली गैंगरेप (Delhi Gang Rape) की पीड़ित (Victim) 'निर्भया' के दोषियों (Convicts) को आज सुबह 5.30 बजे तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में फांसी दे दी गई. इसी के साथ सात साल से चला आ रहा ये हाई प्रोफाइल केस समाप्त हो गया. इससे पहले दोषियों के वकीन एपी सिंह (Lawyer AP Singh) ने दोषियों की फांसी टालने की पूरी कोशिश की. उन्होंने पहले दिल्ली हाईकोर्ट में फांसी रुकवाने की याचिका दायर की, जिस पर देर रात सुनवाई की गई. हाईकोर्ट के फांसी रोकने के इनकार के बाद से एपी सिंह ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का दरवाजा खटखटाया, लेकिन दोषियों को वहां से भी राहत नहीं मिली और आखिरकार उन्हें उनके गुनाह की सजा मिल गई और उन्हें फांसी पर लटका दिया गया.

सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान जस्टिस भानुमति ने कहा कि याचिका में हमें कोई आधार नजर नहीं आता. दोषियों के वकील एपी सिंह ने पवन के नाबालिग होने की दलील भी रखी. सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला आने के बाद निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि वे आज संतुष्ट महसूस कर रही हैं. आज अंततः उनकी बेटी को न्याय मिल गया. पूरा देश इस अपराध से शर्मिंदा था. आज देश को न्याय मिला.

जब निर्भया के दोषियों मुकेश सिंह, पवन गुप्ता, विनय शर्मा और अक्षय कुमार सिंह को फांसी पर लटाकाय गया उस दौरान जेल के अंदर लॉकडाउन रहा, लेकिन तिहाड़ के बाहर लोगों की भीड़ जुटी रही. लोग ने इसे बड़ी जीत बताया. वहीं, निर्भया के माता-पिता ने 20 मार्च का दिन 'निर्भया दिवस' के रूप में मनाने की बात कही.

बता दें कि चारों दोषियों को पवन जल्लाद ने फांसी पर लटकाया. जानकारी के मुताबिक, चारों दोषियों मुकेश सिंह (32), पवन गुप्ता (25), विनय शर्मा (26) और अक्षय कुमार सिंह (31) ने फांसी से पहले न कुछ खाया और ना ही नहाए. जब चारों को फांसी दी गई उस वक्त तिहाड़ में जेल और अन्य अधिकारी मौजूद रहे. दोषियों को 15 लोगों की टीम की निगरानी में फांसी दी गई. जानकारी के मुताबिक फांसी देने के बाद आधे घंटे तक उन्हें तख्ते पर ही लटकाये रखा जाएगा. इसके बाद दोषियों के शवों का दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में पोस्टमार्टम किया जाएगा.

कोरोना वायरस से देश में एक और मौत, स्वास्थ्य मंत्रालय का निर्देश- बच्चों को रखें घर के भीतर

कोरोना वायरस के खौफ ने पहुंचाया भगवान के द्वार, मंदिर में हाथ जोड़कर मिन्नतें कर रहे लोग

कोरोना वायरस का खौफ, केंद्र सरकार ने 50 फीसदी कर्मचारियों को दिया 'वर्क फ्रॉम होम'

First published: 20 March 2020, 5:31 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी