Home » इंडिया » Nitin Gadkari claim when Chidambaram was minister, filed false cases against PM Modi
 

'चिदंबरम जब वित्त मंत्री थे तब उन्होंने PM मोदी और अमित शाह के खिलाफ दर्ज करवाए थे झूठे मामले'

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 December 2019, 11:19 IST

Nitin Gadkari on P Chidambaram: कांग्रेस(Congress) सांसद और पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम(P Chidambaram) बुधवार को तिहाड़ जेल से रिहा हुए. उन्हें सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) ने आईएनएक्स मीडिया मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जमानत दे दी. पी चिदंबरम पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी(Nitin Gadkari) ने बड़े आरोप लगाए हैं. गडकरी ने कहा कि चिदंबरम ने कांग्रेस सरकार में वित्त मंत्री रहने के दौरान पीएम मोदी(Narendra Modi), अमित शाह(Amit Shah) और उनके खिलाफ फर्जी मामले दर्ज करवाए थे. 

इसके आगे नितिन गडकरी ने कहा कि भाजपा, चिदंबरम या किसी अन्य के खिलाफ बदले की भावना से काम नहीं करती और न ही कर रही है. लेकिन चिदंबरम ही थे जिन्होंने वित्त मंत्री रहने के दौरान प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और उन्हें भी फर्जी मामलों में फंसाने की कोशिश की थी, हालांकि वह सभी निर्दोष साबित हुए थे. चिदंबरम तब झूठे मामले दर्ज करवा रहे थे. 

मोदी सरकार में केन्द्रीय सड़क परिवहन, राष्ट्रीय राजमार्ग एवं लघु, सूक्ष्म एवं मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि चिदंबरम ने गृह मंत्री रहते के दौरान भी क्या किया, यह पूरा देश जानता है. उनके खिलाफ धन शोधन मामले में पर्याप्त सबूत हैं. इस कारण उनसे पूछताछ हुई है. मामला विचाराधीन है और अदालत ही फैसला करेगी.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने ईडी द्वारा दर्ज INX मीडिया मामले में चिदंबरम को 106 दिनों बाद जमानत दे दी. इस पर नितिन गडकरी ने कहा कि उनकी सरकार ईडी का दुरुपयोग नहीं कर रही है. उन्होंने कहा कि चिदंबरम को जमानत मिलने से यह साबित नहीं होता कि वह निर्दोष हैं. चिदंबरम के खिलाफ जो मामले हैं उनमें कानून की प्रक्रिया के अनुसार कार्रवाई हुई है.

महाराष्ट्र: शिवसेना को लगा बड़ा झटका, 400 से ज्यादा नेता BJP में हुए शामिल

कर्नाटक उपचुनाव: 15 विधानसभा सीटों पर मतदान शुरू, BJP के लिए करो या मरो की स्थिति

First published: 5 December 2019, 11:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी