Home » इंडिया » nitin gadkari remembered mamories of manohar parrikar
 

मनोहर पर्रिकर को जब कपड़े बदलने के लिए गडकरी ने कहा तो उन्होंने दिया ये जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2019, 10:11 IST

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार शाम निधन हो गया. उनके निधन के बाद देश के बड़े-बड़े नेता औऱ अभिनेताओं ने शोक जताते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने पर्रिकर के निधन पर दुख जताते दुए उन्हें श्रद्धांजलि दी. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दुख जताते हुए कहा, "पर्रिकर जी के निधन से देश और बीजेपी को बहुत नुकसान हुआ है. उन्होंने अपना पूरा जीवन गोवा और बीजेपी को समर्पित किया था."

नितिन गडकरी सीएम पर्रिकर को याद करते हुए काफी भावुक हो गए. उन्होंने कहा, "मनोहर पर्रिकर जी केवल राजनीतिक नेता के रूप में नहीं थे. जब मुझे बीजेपी ने गोवा की जिम्मेदारी सौंपी तब मैंने मनोहर पर्रिकर, श्रीपद नाइक, संजीव देसाई और दिगम्बर कामत इन चारों लोगों की टीम में उनके साथ काम किया. मैंने उनकी जीवन की राजनीति की शुरुआत देखी है."

उन्होंने कहा, "आईआईटी इंजीनियर होने बाद भी उनका व्यवहार बहुत ही साधारण था. मुख्यमंत्री बनने के बाद अपने कपड़े पहनने का ढंग नहीं बदला. अपना स्वभाव नहीं बदला. और रक्षा मंत्री बनने के बाद भी वो वैसे ही रहे. जब मनोहर दिल्ली में आए तो मैंने उनसे कहा कि अपने कपड़े बदलो... यहां बहुत ठंड होती है, हाफ शर्ट में दिल्ली नहीं चलती. तो उन्होंने कहा मैं ऐसे ही रहूंगा."

मनोहर पर्रिकर के निधन पर पूरे देश में राष्ट्रीय शोक, टलीं बोर्ड परीक्षाएं

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मनोहर पर्रिकर को याद करते हुए उनके साथ बिताए पलों को याद किया. उन्होंने गोवा के सीएम पर्रिकर की बात को याद करते हुए कहा, "अभी पणजी में महीना भर पहले ही बहुत बड़ा पुल बना है, तो उन्होंने कहा कि मेरी इच्छा है कि इस पुल का उद्धाटन करने के लिए आप आएं. यह मेरी जिदंगी का ऐसा कार्यक्रम है, जिसमें मैं जाना चाहता हूं, जबकि उन्होंने कहा था कि ये मेरा आखिरी कार्यक्रम है. उस कार्यक्रम में वो कुर्सी पर बैठकर आए और दो मिनट तक उन्होंने भाषण दिया. उद्घाटन हुआ और वो चले गए. तब मैं मन ही मन कह रहा था कि शायद मनोहर का ये आखिरी कार्यक्रम होगा. और वो हमें छोड़कर चले गए."

नितिन गडकरी ने ट्टीट करते हुए लिखा, "नि:शब्द हूं. सुशील और सादगीपूर्ण राजनीति का चेहरा आज खो गया. मनोहर भाई सही मायने में हर कार्यकर्ता के हृदय पर राज करने वाले नेता थे. उन्होंने ट्टीट करते हुए लिखा, "राजनीति में शुरुआती दिनों से वे मेरे साथी और अच्छे मित्र थे. गोवा के विकास के लिए लिए आख़िरी साँस तक संघर्ष करने वाले भारत माँ के इस महान सपूत को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि.ॐ"

CM मनोहर पर्रिकर अपने आखिरी पलों में ट्विटर पर इस नेता को कर गए याद

First published: 18 March 2019, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी