Home » इंडिया » nitish kumar demands for reservation in Private sector
 

सामाजिक न्याय के लिए निजी क्षेत्र में आरक्षण जरूरी: नीतीश कुमार

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2016, 23:07 IST

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निजी क्षेत्र में आरक्षण की वकालत की है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय के लिए तमिलनाडु की तरह अन्य राज्यों में आरक्षण का दायरा बढ़ाने की जरूरत है.

शनिवार को पेरियार इंटरनेशनल संस्था की तरफ से 'वीरमणि सामाजिक न्याय सम्मान' से सम्मानित किए गए नीतीश ने कहा, 'मैं मानता हूं कि मुस्लिमों, ईसाइयों को भी आरक्षण मिलना चाहिए, क्योंकि दलितों की तरह वे भी उसी तरह उपेक्षा और पिछड़ेपन के शिकार हैं.'

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर अनूसूचित जाति के लोगों की जनसंख्या बढ़ेगी तो उनके आरक्षण की सीमा भी बढ़नी चाहिए. उन्होंने कहा कि तमिलनाडु में आरक्षण की सीमा 69 प्रतिशत हो सकती है तो देश के बाकी राज्य में क्यों नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि इसके लिए मजबूत इच्छाशक्ति चाहिए.

उन्होंने कहा, 'मंडल कमीशन के संदर्भ में सुप्रीम कोर्ट का फैसला है जिसे हमलोग मानते हैं, लेकिन आरक्षण का दायरा बढ़ना चाहिए. इस पर चर्चा करने का वक्त आ गया है.'

First published: 9 April 2016, 23:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी