Home » इंडिया » Northeast Assembly Election Results 2018 LIVE UPDATES: these party ruling on Tripura, Nagaland and Meghalaya,bjp,left,congress
 

Northeast Assembly Election Results 2018 LIVE UPDATES: तीन राज्यों में किसकी है सरकार, क्या होगा बदलाव?

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 March 2018, 10:13 IST

पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में शनिवार को मतगणना हो रही है. त्रिपुरा,मेघालय और नागालैंड में इस महीने फरवरी को एक चरण में मतदान हुआ था. त्रिपुरा में 18 फरवरी को एक चरण में मतदान, जबकि मेघालय और नागालैंड में 27 फरवरी को एक चरण में मतदान हुआ था.

इन तीनों राज्यों में 60 विधानसभा सीट है. हाल ही में यहां 59 सीटों पर तीन जगहों चुनाव हुआ था. भाजपा, लेफ्ट और कांग्रेस के लिए बड़ा इम्तेहान है. जहां एक तरफ भाजपा लगातार अपना विस्तार कर रही है वहीं कांग्रेस के लिए ये चुनाव ंसजीवनी का काम करेगा. लेफ्ट की लंबे समय से त्रिपुरा में सरकार है. केरल के अलावा यहां लेफ्ट की यहीं सरकार है.

एग्जिट पोल में तीनों राज्यों में भाजपा को बढ़त दिखाई दी गई है. त्रिपुरा में पहली बार भाजपा सरकार बना सकती है. इसकी वजह माणिक सरकार के खिलाफ एंटी कंमबेसी बताई जा रही है. वहीं नागालेैंड में भाजपा गठबंधन जीत सकती है.

तीन राज्यों में हैं इन दलों की है सरकार 

 मेघालय

 पूरे देश में कांग्रेस की सरकारों का नाम नक्शे से हटते जा रहा है. लेकिन मेघालय वो राज्य है जहां अभी कांग्रेस का किला बरकरार है. भाजपा की पूरी कोशिश होगी कि असम और अरुणांचल में कांग्रेस से सत्ता छीनने का बाद यहां भी अपना परचम लहराएगी. पिछले आठ सालों से यहा कांग्रेस की मेघालय संयुक्त गठबंधन सरकार सत्ता में हैं. इस समय मुकुल संगमा राज्य के सीएम हैं. इन चुनाव में कांग्रेस की राह मुश्किल दिख रही है.

यहां भाजपा ने अपने गठबंधन सहयोगी और मणिपुर राष्ट्रीय लोक पार्टी के साथ सत्‍ता में आने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है. इसके अलावा यूपीए के दौरान सरकार में शामिल शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने अलग चुनाव लड़ने की ऐलान किया है.

नागालैंड
नागालैंड में डेमोक्रेटिक एलायंस ऑफ नागालैंड के नेतृत्‍व वाली नागा पीपुल्‍स फ्रंट (एनपीएफ) की सरकार सत्‍ता में हैं. यहां भाजपा सहयोगी पार्टी है. यहां एक साल में दो सीएम बने हैं. एनपीएफ के भीतर चल रही गुटबाजी का फायदा भाजपा उठाना चाहती है. भाजपा इससे अलग होकर NDPF के साथ गठबंधन कर रही है.

त्रिपुरा
यहां 1993 से सत्‍ता में लेफ्ट है. केरल के बाद ये दूसरा लेफ्ट का गढ़ है. मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने त्रिपुरा में अपना चौथा कार्यकाल पूरा किया. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के छह और एक कांग्रेस विधायक के भाजपा में शामिल होने के बाद वो यहां अपनी जमीन तैयार कर रही है.

First published: 3 March 2018, 10:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी