Home » इंडिया » Filmmaker Mahesh Bhatt alleges Central govt is telling fairy tales
 

नोटबंदी: महेश भट्ट ने कहा, परियों की कहानी सुना रही है केंद्र सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:45 IST
(पीटीआई)

मोदी सरकार के द्वारा लागू नोटबंदी के जरिये देश में व्याप्त भ्रष्टाचार, काले धन को खत्म करने की दलील को फिल्म निर्देशक महेश भट्ट ने परियों की कहानी सरीखा बताया है.

भट्ट ने कहा कि परियों की कहानी हम भी सुनाते हैं और केंद्र सरकार भी सुना रही है. हम सभी लोग किस्से-कहानी सुनने के आदी हैं, इसलिए हम सभी को सुनते रहना चाहिए.

महेश भट्ट ने यह बात शुक्रवार को इलाहाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही. मोदी सरकार के नोटबंदी पर निशाना साधते हुए फिल्ममेकर भट्ट ने कहा कि जब निर्णय लिया, तो उन्हें यह देखना चाहिए कि सबसे कमजोर व्यक्ति को इससे दिक्कत तो नहीं होगी, यह निर्णय तभी सही होता.

उन्होंने आगे कहा कि टीवी और अखबारों के माध्यम से उन्हें पता चला कि गांवों में हालात काफी खराब हैं. लोग समझ ही नहीं पा रहे हैं कि ये जो काली रात उभरी है, उसकी सुबह कब होगी. उनकी बात सरकार तक पहुंचाना हम सबका कर्तव्य है. हालांकि मुंबई के जिस हिस्से में वह रहते हैं, वहां ऐसी दिक्कत नहीं है.

महेश भट्ट ने कहा कि नोटबंदी के असर से फिल्म जगत भी अछूता नहीं है. हमारे यहा भी कई बार फिल्मों की शूटिंग कैंसिल हुई है. दिहाड़ी पर काम करने वाले कर्मचारियों को मेहनताना देने में भी दिक्कतें आ रही हैं.

नोटबंदी से देश में जो माहौल है उस पर फिल्म बनाने की बात पर उन्होंने कहा कि हमारा काम मनोरंजन करना है. कुछ ऐसा झूठ बोलना जो लोगों को पसंद आए.

महेश भट्ट ने यह भी कहा कि चुनाव में अगर किसी पार्टी को आपने वोट दिया है तो उसके फैसले को भी एक हद तक स्वीकार करना चाहिए. हालांकि उसके फैसले के खिलाफ आवाज उठाने का हक भी हमारे पास है.

First published: 3 December 2016, 10:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी