Home » इंडिया » Note ban: Pune police seized 1.11 coro old currency
 

नोटबंदी: पुणे पुलिस ने 1 करोड़ 11 लाख 46 हजार के पुराने नोट पकड़े

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:41 IST
(एजेंसी)

नोटबंदी के बाद पूरे देश में जगह-जगह बड़े पैमाने पर काले धन को सफेद करने के लिए कई गिरोह पकड़े जा रहा हैं. ताजा मामला पुणे का है, जहां पुलिस ने किशोर ससमल पोरवाल नाम के शख्स के ऑफिस से 1 करोड़ 11 लाख 46 हजार रुपये बरामद किए हैं.

बताया जा रहा है कि पोरवाल का दफ्तर पुणे कॉरपोरेशन के पास एक इमारत में है, जहां अंकेश अग्रवाल नामक व्यक्ति 30 फीसदी कमीशन की दर से 500 और 1000 रुपये के पुराने नोट बदलवाने के लिए लाया था. अंकेश पुणे में खड़की का रहने वाला है. पुलिस ने रुपये जब्त करके आयकर विभाग को सूचित कर दिया है.

गौरतलब है कि इससे पहले गुजरात की वडोदरा पुलिस ने भाजपा एक पार्षद के भाई के घर से चलन से बाहर हो चुके पुराने नोट के रूप में 31 लाख रुपये को बीते मंगलवार को जब्त किया था.

उस मामले में संयुक्त पुलिस आयुक्त डीजे पटेल ने बताया कि चलन से बाहर हो चुके नोटों के बरामद होने के बाद आरोपी वैकुंठ पवार उर्फ 'दबंग' को हिरासत में लिया गया.

अधिकारी ने बताया, ''हिरासत में लिया गया व्यक्ति वडोदरा नगर निगम में भाजपा पार्षद विजय पवार का भाई है.'' बताया जा रहा है कि भाजपा पार्षद विजय पवार काफी रसूखदार और प्रभावशाली माने जाते हैं और प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ उनके काफी नजदीकी संबंध हैं.

First published: 24 November 2016, 11:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी