Home » इंडिया » Note ban: Ramdev told, It is not a economic inflation
 

लालू से मिलने पहुंचे रामदेव ने कहा, नोटबंदी से देश में आर्थिक मंदी नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:45 IST
(ट्वीटर)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके नोटबंदी के समर्थक योग गुरु रामदेव शुक्रवार को राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रमुख लालू प्रसाद यादव से मिलने के लिए उनके पटना स्थित आवास पर पहुंचे.

मुलाकात के बाद बाबा रामदेव ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को देश की राजनीतिक अमूल्य धरोहर बताया.

इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले की सराहना करते हुए कहा कि नोटबंदी से देश में कहीं भी आर्थिक मंदी की स्थिति नहीं है.

इस दौरान योगगुरु ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि लालू से नोटबंदी पर नहीं, बल्कि रोगबंदी पर चर्चा हुई. योग गुरु ने कहा, "लालू देश की राजनीतिक धरोहर हैं और उनका स्वस्थ रहना देश की राजनीति के लिए जरूरी है."

इधर, राजद के अध्यक्ष लालू प्रसाद ने भी ट्वीट कर योग गुरु को कुशलक्षेम पूछने के लिए आने पर धन्यवाद दिया.

उन्होंने रामदेव से मुलाकात की एक तस्वीर ट्वीटर पर साझा करते हुए लिखा, "बाबा रामदेव जी ने कहा, आप सामाजिक, राजनीतिक धरोहर हैं, देश की राजनीति के लिए आपका स्वस्थ रहना आवश्यक है. कुशलक्षेम पूछने के लिए बाबा का धन्यवाद."

रामदेव ने लालू प्रसाद से किसी भी रिश्तेदारी की बात से इनकार करते हुए कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. यह सब मीडिया का फैलाया हुआ अफवाह भर है.

कुछ दिन पूर्व लालू के पुत्र व मंत्री तेज प्रताप यादव और बाबा रामदेव की भतीजी के विवाह की खबर मीडिया में आई थी.

पत्रकारों द्वारा नोटबंदी के विषय में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि नोटबंदी को लेकर कहीं भी आर्थिक मंदी की स्थिति नहीं है.

हालांकि इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि नोटबंदी को लेकर लोगों को कुछ दिन धर्य रखना होगा. इसके बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर आ जाएगी.

रामदेव ने कहा कि उनका पटना आने का मकसद राजनीतिक नहीं, बल्कि पतंजलि का कार्यक्रम है. इसके बाद जब उन्होंने सुना कि लालू प्रसाद की तबियत खराब है तो उनसे मिलने चले आए.

First published: 2 December 2016, 2:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी