Home » इंडिया » Now BJP minister Vineet Sharda says Lord Rama and Hanuman belongs to vaishya community
 

अब BJP के इस नेता ने ढूंढी भगवान राम और हनुमान की जाति, बोले- दोनों वैश्य समुदाय के थे

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 January 2019, 17:10 IST

BJP के नेता इन दिनों भगवान राम और हनुमान जी की जाति खोजने में लगे हुए हैं. अब बीजेपी के एक और नेता ने हनुमान जी और भगवान राम को वैश्य समुदाय का बताया है. टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, बीजेपी नेता विनीत शारदा का कहना है कि भगवान राम वैश्य समुदाय से ताल्लुक रखते थे. हनुमान भी उसी समुदाय से हैं क्योंकि हनुमान भगवान राम के ही पुत्र थे.

विनीत शारदा ने कहा कि उन्हें एक विशेष जाति में सीमित कर देना ठीक नहीं है. वो वैश्य समाज से थे और हम सब उन्हीं के वंशज हैं. विनीत ने बताया कि वैश्य समाज के कुल 25 करोड़ प्रतिनिधि हैं. ऐसे में भगवन हनुमान की जाति को लेकर चल रही राजनीति को रोक देना चाहिए. बता दें कि विनीत शारदा मेरठ के राज्य बीजेपी व्यापार विभाग के सेक्रेटरी हैं.

पढ़ें- Maggi खाते हैं तो हो जाएं सावधान, Nestle ने स्वीकारा- मैगी में था जहरीला पदार्थ लेड

इससे पहले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाल ही पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में प्रचार करते हुए राजस्थान में कहा था कि हनुमान जी दलित थे. इसके बाद बीजेपी के ही एक पार्षद बुक्कल नवाब ने कहा कि हनुमान जी मुसलमान थे.

वहीं शिवसेना ने दावा किया था कि योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल के सहकर्मी लक्ष्मी नारायण चौधरी ने विधानसभा में ऑन रिकॉर्ड कहा था कि भगवान जाट थे. शिवसेना का कहना था कि आचार्य निर्भय सागर महाराज ने दावा किया कि भगवान हनुमान जैन थे.

पढ़ें- बिहार: जान की भीख मांगता रहा बुजुर्ग, पशु चोरी के शक में भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में कहा, "इस तरीके से उत्तर प्रदेश विधानसभा में नई रामायण लिखी जा रही है और उसके मुख्य पात्रों के साथ जाति का ठप्पा लगाया जा रहा है."

First published: 3 January 2019, 17:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी