Home » इंडिया » NPP MLA Tirong Aboh and his son among 11 killed in Arunachal Pradesh by militants
 

अरुणाचल में NPP विधायक के काफिले पर चरमपंथी हमला, MLA सहित 11 की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 May 2019, 8:11 IST
(File Photo)

अरुणाचल प्रदेश में एक चरमपंथी हमले में नेशनल पीपुल्स पार्टी के विधायक तिरोंग अबो सहित 11 लोगों की मौत हो गई. वह 56 साल के थे और मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड संगमा की पार्टी से विधायक थे. इस चरमपंथियों के हमले में अबो के बेटे की भी मौत हुई है.

चरमपंथियों ने तिरोंग अबो को अपना निशाना अरुणाचल प्रदेश के तिराप जिले में बनाया जब वह अपने परिवार सहित सुरक्षा व्यवस्था के साथ असम से अरुणाचल जा रहे थे. इसी दौरान खोनसा-देओमाली रोड पर पहले से घात लगाकर बैठे कुछ बंदूकधारी हमलावरों ने उनके काफिले पर हमला कर दिया. इस हमले में सुरक्षाबलों के दो जवानों की भी मौत हुई है और दो लोग घायल बताए जा रहे हैं.

पुलिस के मुताबिक अबो को पहले से ही जान से मारने की धमकियां मिल रही थीं. हालांकि उनके काफिले पर हमले करने के पीछे किसका हाथ है इस बात का अभी तक पता नहीं चला है. बता दें कि जहां चरमपंथियों ने अबो के काफिले पर हमला किया वह जिला तीन ओर से असम, नागालैंड और म्यांमार से लगता है. इसी इलाके में नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड और एनएससीएन-के जैसे संगठन काफी सक्रिय हैं.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस हमले की निंदा की है. उन्होंने एक ट्वीट करते हुए कहा कि, ''अरुणाचल प्रदेश में विधायक तिरोंग अबो, उनके परिवार और अन्य लोगों की हत्या हैरान करने देने वाली है. यह उत्तर पूर्व की शांति और स्थिरता को बिगाड़ने वाला कदम है. इस जघन्य अपराध में शामिल लोगों को बख्शा नहीं जाएगा.”

केंद्रीय गृह मंत्री के साथ ही मेघालय के मुख्यमंत्री और एनपीपी प्रमुख कॉनराड संगमा ने भी इस हमले पर गहरा दुख जताया. उन्होंंने एक ट्वीट करते हुए लिखा, "गृह मंत्री और प्रधानमंत्री को हमला करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करनी चाहिए. बता दें कि अबो इस बार एनपीपी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ रहे थे. इससे पहले वह कांग्रेस से विधायक चुने गए थे.

First published: 22 May 2019, 8:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी