Home » इंडिया » NRA 2020: Cabinet approves national recruitment agency single exam for ssc rrb ipbs and other government jobs
 

अब एक परीक्षा देकर मिलेगी सरकारी नौकरी, साल में दो बार होगा एग्जाम, जानिए क्या है नया पैटर्न

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2020, 9:34 IST

NRA 2020: जल्द ही आप एक परीक्षा देकर सरकारी नौकरी (Government Jobs) हासिल कर सकेंगे. केंद्र सरकार ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. दरअसल, बुधवार को पीएम मोदी की अगुवाई में हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए हैं. जिसमें केंद्र सरकार की सरकारी नौकरियों के लिए एक ही परीक्षा लेने का भी प्रस्ताव शामिल है. एक परीक्षा से सरकारी नौकरी के लिए सरकार एनआरए यानी नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी का गठन करेगी. जिसके लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मंजूरी दे दी है. एनआरए केंद्र सरकार की सरकारी नौकरियों के लिए एक कॉमन एलजिबिलिटी टेस्ट (CET) कराएगी.

इससे करीब ढाई करोड़ उम्मीदवारों को एक से अधिक परीक्षाओं में बैठने से छुटकारा मिलेगा. इसकी शुरुआत रेलवे, बैंकिंग और एसएससी की प्रारंभिक परीक्षाओं को एक साथ जोड़ने यानी मर्ज करने से होगी. बाद में अन्य परीक्षाएं भी इसमें शामिल कर दी जाएगी. बता दें कि इस साल बजट में ही इस एजेंसी के गठन का ऐलान कर दिया था. कैबिनेट के फैसलों की जानकारी देते हुए सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि एनआरए साल में दो बार कामन सीईटी का आयोजन करेगी. वर्तमान में रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) इंस्टीट्यूट आफ बैंकिंग पर्सनल सलेक्शन (IBPS) तथा कर्मचारी चयन आयोग (SSC) द्वारा आयोजित की जाने वाली प्रारंभिक परीक्षाओं को मर्ज किया जाएगा.


NCC में भर्ती होंगे तटीय जिलों के एक लाख कैडेट्स, रक्षा मंत्रालय ने लगाई प्रस्ताव पर मुहर

इन परीक्षाओं में ग्रुप बी और सी के 1.25 लाख पदों के लिए करीब ढाई करोड़ उम्मीदवार बैठते हैं. अभी उन्हें हर परीक्षा के लिए प्रारंभिक परीक्षा भी अलग-अलग देनी पड़ती है. कार्मिक राज्य मंत्री डा. जितेन्द्र सिंह ने बताया कि नए फैसले के मुताबिक सीईटी में सफल उम्मीदवारों की एक मेरिट लिस्ट बनाई जाएगी. ये मैरिट लिस्ट तीन साल के मान्य होगी. हालांकि जो उम्मीदवार अपना स्कोर बेहतर करना चाहेंगे वे पुन इस परीक्षा में बैठ सकेंगे. जो उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में सफल होंगे उन्हें बैंक, रेलवे या एसएससी की दूसरे चरण की परीक्षा में शामिल होने का अवसर मिलेगा. उन्होंने साफ किया कि सिर्फ प्रारंभिक परीक्षा एक होगी बाकी अन्य औपचारिकताएं और नियम पहले की तरह से रहेंगे.

ONGC Recruitment 2020: 4100 से ज्यादा पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करें अप्लाई

प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि अभी तीन परीक्षाओं को मर्ज किया जा रहा है, बाद में अन्य परीक्षाएं भी इसमें शामिल की जाएंगी. केंद्र की करीब 20 एजेंसियां भर्ती परीक्षाएं आयोजित करती हैं जो चरणबद्ध तरीके से इसमें मर्ज हो जाएंगी. वहीं जितेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्यों और निजी क्षेत्र को भी इस प्रकार के कदम उठाने चाहिए. निजी क्षेत्र इस परीक्षा के स्कोर से भी उम्मीदवारों का चयन कर सकता है. सूचना एवं प्रसारण मंत्री जावड़ेकर ने बताया कि देश में सरकारी नौकरियों के लिए 20 से अधिक भर्ती एजेंसियां हैं. सरकारी नौकरी के लिए युवाओं को बहुत सी परीक्षा देनी होती है. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इसे समाप्त करने के लिए एक ऐतिहासिक फैसला लिया है.

यहां निकली MTS, LDC और फॉरेस्ट गार्ड के पदों पर वैकेंसी, 12वीं पास युवा करें अप्लाई

यूपी में जल्द शुरू होगी TGT, PGT टीचर्स की भर्ती, 20 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

बता दें कि एनआरए एक स्वायत्त संस्थान होगी, जिसका मुख्यालय दिल्ली में होगा. इसका अध्यक्ष सचिव स्तर का अधिकारी होगा. एनआरए द्वारा देश भर में एक हजार परीक्षा केंद्रों की स्थापना की जाएगी. एक जिले में कम से कम एक परीक्षा केंद्र होगा. प्रारंभिक परीक्षा 12 क्षेत्रीय भाषाओं में आयोजित की जाएगी. एनआरए के गठन पर तीन सालों में करीब 1517 करोड़ रुपये का खर्च आएगा. इसका मकसद यह है कि प्रारंभिक परीक्षा के लिए उम्मीदवार को जिला मुख्यालय से आगे नहीं जाना पड़ेगा.

FRI Recruitment 2020: MTS और टेक्निकल असिस्टेंट के पदों पर निकली वैकेंसी, ऐसे करें अप्लाई

First published: 20 August 2020, 9:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी