Home » इंडिया » Odisha: Indo-Israeli surface to air missile 'Barak-8 '
 

ओडिशा: जमीन से हवा में मार करने वाली बराक-8 मिसाइल का सफल परीक्षण

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:48 IST
(फाइल फोटो )

अपनी रक्षा क्षमताओं में वृद्धि करते हुए भारत ने मंगलवार को ओडिशा तट से दूर एक रक्षा प्रतिष्ठान से सतह से हवा में लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाइल बराक-8 का सफल परीक्षण किया.

राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने ट्विटर के जरिए बराक मिसाइल के सफल परीक्षण पर डीआरडीओ को बधाई दी है.

इजरायल की मदद से विकसित

डीआरडीओ के एक वैज्ञानिक ने बताया कि सुबह करीब दस बजकर 13 मिनट पर चांदीपुर के एकीकृत परीक्षण रेंज (आईटीआर) से एक मोबाइल लॉन्चर के जरिये भारत और इजरायल द्वारा संयुक्त रूप से विकसित लंबी दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया गया. वैज्ञानिक ने बताया कि परीक्षण सफल रहा और जल्दी ही कुछ और दौर के परीक्षण किये जाने की संभावना है.

डीआरडीओ वैज्ञानिक ने बताया, "मिसाइल के सिस्टम में मल्‍टी फंक्‍शनल सर्विलांस एंड थ्रेट अलर्ट राडार एमएफ स्‍टार को शामिल किया गया है, जो मिसाइल का पता लगाने, उसकी स्थिति पर नजर रखने और उसे दिशा देने में मदद करता है." एमएफ स्टार युक्त मिसाइल से किसी भी हवाई खतरे से निपटना आसान होगा.

इससे पहले 30 जून से 1 जुलाई के बीच रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के चांदीपुर बेस से सतह से हवा में मार करने वाले तीन मध्यम दूरी की मिसाइलों का लगातार परीक्षण किया गया था.

भारतीय नौसेना ने भी सतह से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइल (एलआर-एसएएम) का सफल परीक्षण किया था. यह परीक्षण 30 दिसंबर, 2015 को आईएनएस कोलकाता ने पश्चिमी समुद्र तट पर किया.  परीक्षण पूरा होने के बाद इन मिसाइलों को तीनों सेनाओं में शामिल किया जायेगा.

बताया जा रहा है कि इन मिसाइलों को बनाने में बीईएल, एलएंडटी, बीडीएल, टाटा समूह और कई अन्‍य कंपनियों ने अपना सहयोग दिया था, जिसे इस परीक्षण के दौरान इस्तेमाल में लाया गया. 

First published: 20 September 2016, 3:53 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी