Home » इंडिया » Old EVMs and VVPATs to be used for all 5 bypolls on April 23
 

गुजरात की इन पांच सीटों पर पुरानी EVM और VVPAT मशीनों से होने जा रहा है चुनाव

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2019, 11:21 IST

आगामी लोकसभा चुनावों के लिए भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड (BEL) से ब्रांडेड नई इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (EVM) और VVPATs का उपयोग करने के लिए गुजरात को निर्देश देने के बाद चुनाव आयोग ने अब 2006-16 के बीच निर्मित तीन हजार से अधिक पुरानी मशीनों को तैनात करने का फैसला किया है.

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार पांच स्थानों, जहां पुराने EVM और M2 मॉडल के VVPATs का उपयोग किया जाएगा, ध्रांगधरा (सुरेन्द्रनगर जिला), मनावर (जूनागढ़), तलाला (गिर सोमनाथ), ऊंझा (मेहसाणा) और जामनगर ग्रामीण (जामनगर) विधानसभा क्षेत्र हैं.

 

गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एस मुरली कृष्णा ने कहा “हम उन पांच स्थानों पर एम 2 मशीनों का उपयोग कर रहे हैं जहां उपचुनाव होंगे. संसदीय चुनावों के लिए इन मशीनों का उपयोग उन्हीं स्थानों में किया जाएगा.” लोकसभा चुनाव और विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव दोनों एक साथ 23 अप्रैल को इन पांच स्थानों पर होंगे.

अधिकारियों ने कहा कि इन पांच स्थानों पर लगभग 3,000 मशीनों का उपयोग होने की उम्मीद है. 2017 विधानसभा चुनावों के दौरान आयोजित प्रथम-स्तरीय जांच (एफएलसी) के दौरानएम 2 मॉडल की पुरानी मशीनों के बीच अस्वीकृति का प्रतिशत पांच प्रतिशत से अधिकपाया गया था.

एम 2 मॉडल की पुरानी मशीनों की विफलता दर बहुत अधिक है और इसलिए लोकसभा चुनाव के दौरान एकदम नई एम 3 मॉडल मशीनों के लिए जाना तय किया गया. लोकसभा चुनाव की तैयारी में गुजरात में 80,300 से अधिक ब्रांड की नई बैलट यूनिट और 67,000 कंट्रोल यूनिट की खरीद की गई थी, जो मिलकर EVM का निर्माण करती हैं.

चुनाव आयोग के अधिकारी ने कहा, “हमने अपनी आवश्यकता के बारे में भारत के चुनाव आयोग को लिखा था और उन्होंने हमें M2 मशीनें दीं. हमें किसी अन्य राज्य से इन मशीनों की खरीद नहीं करनी होगी क्योंकि उनमें से लगभग 8,000 गुजरात में पहले से ही हैं. ”

बोइंग 737 मैक्स में फिर आयी दिक्कत, करनी पड़ी आपातकालीन लैंडिंग

First published: 28 March 2019, 11:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी