Home » इंडिया » Omar Abdullah challange Ram mandhav to prove or pardon on the Pakistan connection statement
 

राम माधव के पाकिस्तान कनेक्शन पर अबदुल्ला का जवाब- हिम्मत है तो आरोप साबित करें नहीं तो मांगे माफी

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 November 2018, 14:59 IST

जम्मू-कश्मीर विधान सभा भंग होने के बाद से राज्य में पार्टियों के बीच सियासी घमासान तेज हो गया है. एक तरफ भारतीय जनता पार्टी ने राजयपाल मलिक का समर्थन किया है तो वहीं NC-PDP गठबंधन इसका विरोध कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने का दावा करने वाले कांग्रेस-NC-PDP गठबंधन को लेकर बीजेपी के नेता राम माधव ने पाकिस्तान कनेक्शन बताते हुए बड़ा बयान दिया है. इसके बाद से ही जम्मू-कश्मीर के पूर्व प्रधानमंत्री उम्र अब्दुल्लाह और बीजेपी नेता माधव के बीच ट्विटर पर सियासी बहस छिड़ गई है.

राम माधव ने पिछले महीने पीडीपी और नेशनल कॉन्फ्रेंस द्वारा निकाय चुनाव के बहिष्कार को पाकिस्तान से आया निर्देश बताया है. साथ ही माधव ने कहा कि इस बार गठबंधन की सलाह भी बार्डर के उस पार से आई होगी.

जम्मू-कश्मीर विधानसभा भंग, PDP-कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस का गठबंधन बनते ही आई मुसीबत

राम माधाव के इस बयान पर तीखी प्रतिक्रया देते हुए उमर अब्दुल्लाह ने ट्वीट के जरिये कहा, '' मैं आपको चैलेंज करता हूं कि इन आरोपों को सिद्ध करके दिखाएं. आपके पास RAW-NIA-CBI है, जांच कर पब्लिक डोमेन में ला सकते हैं. या तो इन आरोपों को साबित करें अन्यथा माफी मांगें.''

राम माधव के उमर अब्दुलाह पर पाकिस्तान के निर्देशानुसार काम करने के आरोप पर अब्दुल्लाह ने कहा कि या तो राम माधव अपने ब्यान को साबित करें नहीं तो माफ़ी मांगे. अब्दुल्ला ने कहा, "राज्यपाल का कहना है कि अलग-अलग सोच रखने वाले एक साथ कैसे आ सकते हैं? तो मैं पूछता हूं कि क्या उन्होंने यह सवाल पहले PDP और BJP से नहीं पूछा था."

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती ने कांग्रेस और नेशनल कॉन्फ्रेंस के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. लेकिन इनके दावे के बाद ही राज्य के राजयपाल सत्यपाल मालिक ने विधानसभा भांग करने के आदेश दे दिए. इस फैसले के बाद से ही राज्य की राजनीति में सियासी बयानबाजी गर्माती नजर आ रही है.

 

First published: 22 November 2018, 14:59 IST
 
अगली कहानी