Home » इंडिया » On maratha reservation issue Maharashtra Shivsena saamana wrote pankaja munde should be CM to solve this issue
 

शिवसेना- पंकजा मुंडे को महाराष्ट्र का CM बनाते ही एक घंटे के अंदर हो जाएगा ये काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 July 2018, 15:18 IST

मराठा आरक्षण को लेकर मराठा क्रांति मोर्चा के उग्र आंदोलन के लिए शिवसेना ने पहले भी राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को जिम्मेदार ठहराया है. एक बार फिर राज्य के मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने कहा कि अगर एक घंटे के लिए उनकी मंत्रिमंडलीय सहयोगी पंकजा मुंडे को मुख्यमंत्री बना दिया गया तो सारी समस्या हल हो जाएगी.

पंकजा बस एक घंटे मुख्यमंत्री रह कर ही मराठा आरक्षण को लागू कर सकती हैं. शिवसेना ने कहा अगर वो मुख्यमंत्री होतीं तो इस मुद्दे पर फैसला लेने के लिए इतना वक़्त लेती ही नहीं. ये फैसला ऐसा नहीं है कि इसमें इतनी देरी की जाए.

शिवसेना के मुखपत्र सामना के सम्पादकीय में जो लेख प्रकाशित हुआ उसमें कहा गया है, “अगर पंकजा मुंडे बिना किसी दिक्कत के मराठा आरक्षण पर निर्णय कर सकती हैं तो सर्वसम्मति से उन्हें कम से कम एक घंटे के लिए मुख्यमंत्री बना दिया जाना चाहिए.”

ये भी पढ़ें- मोदी के मंत्री ने मराठा आंदोलन का किया समर्थन, आरक्षण की पैरवी की

आगे इसमें कहा गया है कि इसे लेकर पकंजा की भूमिका को समझना जरूरी है. ऐसा नहीं है कि वो मराठा आरक्षण मुद्दे पर पॉलिटिक्स खेल रही हैं. अगर कोई ऐसा सोचे तो वो गलत होगा. आगे लिखा है कि जब पंकजा प्रधानमंत्री से मामले की ओर ध्यान देने के लिए आग्रह कर सकती हैं. तो राज्य के मुख्यमंत्री होने के नाते फडणवीस को तो दिल्ली जाना चाहिए. और मामले पर प्रधानमंत्री मोदी से बात करनी चाहिए.

इस मामले में प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार केवल आंदोलन को दबाना चाहती है. वैसे भी पीएम दिल्ली मिलते हैं ऐसा लगता है कि उन्हें देश के मामलों में कोई रूचि नहीं है.

ये भी पढ़ें- मुंबई तक पहुंची मराठा आंदोलन की आंच, पुलिस कॉन्स्टेबल समेत अब तक 3 लोगों की गई जान

First published: 28 July 2018, 15:18 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी